Prabhat Chingari
अन्तर्राष्ट्रीयअपराधउत्तराखंडखेल–जगतधर्म–संस्कृतिमनोरंजनराजनीतीराष्ट्रीयव्यापार

कुलपति ने कहा विश्वविद्यालय को जो ग्रेड मिली है वही लिखी जाएगी | The Vice-Chancellor said that the grade that the university has got will be written

उज्जैन39 मिनट पहले

कॉपी लिंक

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा अध्ययनशाला में संचालित विभिन्न पाठ्यक्रमों की जानकारी और सत्र 2023-24 में प्रवेश देने के लिए 29 से 31 मई तक प्रवेशोत्सव का आयोजन किया गया। आयोजन के दौरान पाठ्यक्रमों की जानकारी देने के लिए यहां लगाए गए सभी बैनर पर विश्वविद्यालय को ए ग्रेड मिलना दर्शाया गया है। जबकि अक्टुबर में हुए नैक मूल्यांकन के बाद विश्वविद्यालय की ग्रेड बदलकर बी ++ हो चुकी है। ऐसे में बाहर से आने वाले विद्यार्थीं भ्रमित हो रहे हैं। हालांकि इस मामले में कुलपति ने कहा कि विश्वविद्यालय को जो ग्रेड मिली है, उसी को दर्शाया जाएगा। ग्रेड छुपाने से क्या होगा। उन्होंने बैनर पोस्टर से ग्रेड बदलने के निर्देश भी दिए है।

विक्रम विश्वविद्यालय का तीन दिवसीय प्रवेशोत्सव इंजीनियरिंग संस्थान में आयोजित है। इस दौरान विश्वविद्यालय में संचालित पाठ्यक्रमों की जानकारी लेने के लिए बाहर के विद्यार्थी यहां पहुंच रहे हैं। ऐसे में पाठ्यक्रम की जानकारी देने वाले सभी बैनर में विश्वविद्यालय को ए ग्रेड यूनिवर्सिटी के रूप में दर्शाया गया है। जबकि विश्वविद्यालय में पिछले साल अक्टूबर को नैक मूल्यांकन के बाद बी ++ की ग्रेड मिली है। बैनर पर दर्शाई ग्रेड के कारण यहां आने वाले छात्र-छात्राएं भी भ्रमित हो रहे। हालांकि इस मामले की जानकारी लगने के बाद कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पांडे ने भी कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण कर ए ग्रेड वाले बैनर हटाने के निर्देश दिए है। कुलपति प्रो पांडे ने कहा कि छात्रों को भ्रमित करने वाली कोई बात नहीं है, जो ग्रेड मिली है वही बैनर पर होना चाहिए। इस तरह की जानकारी देना गलत है। ऐसे सभी बैनर हटाने के लिए कहा गया है।

स्वीकृत नही लिस्ट लगा दी

स्वीकृत नही लिस्ट लगा दी

पाठ्यक्रम स्वीकृत नही लिस्ट लगा दी, कुलपति ने हटवाई

विक्रम विश्वविद्यालय के प्रवेश उत्सव कार्यक्रम में कुलपति प्रो. पांडे के निरीक्षण के दौरान यह बात भी सामने आई कि जो पाठ्यक्रम विश्वविद्यालय के प्लानिंग एंड इवेल्यूवेशन बोर्ड से स्वीकृति नहीं है, उन्हें भी बैनर के माध्यम से दर्शाया गया। ऐसे करीब 15 पाठ्यक्रमों की लिस्ट यहां लगाई गई थी। कुलपति ने नाराजगी जाहिर करते हुए पाठ्यक्रमों की लिस्ट हटवा दी है। कुलपति ने कहा कि जो पाठ्यक्रम अभी स्वीकृत नही है, उसे क्यों लगाया गया। यदि विद्यार्थी उसमें प्रवेश लेते हैं तो कैसे मैनेज किया जाएगा। इसलिए सूची भी हटवा दी है।

खबरें और भी हैं…

Related posts

एशिया में पहली बार,5वाँ विश्व कॉफ़ी सम्मलेन (डब्लूसीसी)का होगा,आयोजन

prabhatchingari

छात्रा की साईकिल को उठाकर बैरिकेडिंग से करवाया पार

prabhatchingari

रामलला मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा के हम सब बनेंगे साक्षी : सीएम

prabhatchingari

सामान्य प्रेक्षक कुजीं लाल मीना की उपस्थिति में रिटर्निंग अधिकारी ने की विधिमान्यतः नामनिर्देशन पत्रों की सूची के अनुसार संवक्षी

prabhatchingari

चारधाम यात्रा के लिए स्वास्थ्य विभाग ने जारी की 11 भाषाओं में हेल्थ एडवाइजरी, 50 जगह होगी यात्रियों की स्वास्थ्य जांच

prabhatchingari

बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने शुरू की बॉब 360 –  एक अल्पकालिक जमा योजना

prabhatchingari

Leave a Comment