Prabhat Chingari
उत्तराखंडधर्म–संस्कृति

18 वर्षों बाद बद्रीनाथ यात्रा के लिए गर्भगृह से बाहर निकली कुमेड़ा की मां राजराजेश्वरी की डोली

Advertisement

चमोली ( प्रदीप लखेड़ा )
नागपुर पट्टी के पोखरी विकास खण्ड के कुमेड़ा गांव से भगवती राजराजेश्वरी इंद्रामती 18 वर्षों के उपरांत भगवान बद्रीनारायण के दर्शन हेतु आज गर्भगृह से बाहर आ गई है।
नागपुर पट्टी के कुमेड़ा गांव से भगवती राजराजेश्वरी इंद्रामती की डोली 4 सितंबर को अपने गृहक्षेत्र से प्रस्थान कर रात्रि विश्राम हेतु बमोथ पहुंचेगी। इसके बाद देवडोली 5 सितंबर को रात्रि प्रवास पर कालेश्वर, 6 सितंबर को रात्रि विश्राम चमोली बाजार, 7 सितंबर को गरुड़गंगा, 8 सितम्बर को जोशीमठ, 9 सितंबर को पांडुकेश्वर, 10 सितंबर को भगवान बद्रीनारायण में दर्शन पूजन एवं रात्रि प्रवास कर 11 सितम्बर को रात्रि विश्राम पांडुकेश्वर, 12 सितम्बर को जोशीमठ, 13 सितंबर को गरुड़ गंगा, 14 सितंबर चमोली बाजार रात्रि विश्राम करके 15 सितम्बर को घुड़साल में रात्रि विश्राम, 16 सितम्बर को त्रिशूला, 17 सितम्बर को पोखरी, 18 सितम्बर को उडामांडा, 19 सितम्बर को सिनाऊ में रात्रि विश्राम कर 20 सितम्बर को अपने गृहक्षेत्र कुमेड़ा में पहुंचेगी।
मन्दिर समिति के अध्यक्ष गुलाब सिंह कण्डारी ने बताया कि 22 सितम्बर को अपने मूल स्थान में पहुंचने पर वहाँ स्थित मन्दिर में हवन पूर्णाहुति एवं भण्डारे के
साथ देवरा यात्रा संपन्न होगी।
ग्राम प्रधान चंद्रमोहनसिंह नेगी ने बताया कि देवरा यात्रा को लेकर कुमेड़ा, सिनाऊं, उड़ामांडा, खाल, सरमोला, गडूना, करछुना, छंदोली, सूगी सुखसारी एवं बमोथ आदि गांवों में भारी उत्साह है। उन्होंने बताया कि देवडोली के साथ सैकड़ों की संख्या में भक्त जा रहें हैं।
इस अवसर पर मन्दिर समिति के कोषाध्यक्ष देवेंद्र सिंह रावत, मुख्य पुजारी शिवप्रसाद खाली, भगवती प्रसाद खाली, धर्म सिंह रावत, भगवती रावत, सुदर्शन सिंह नेगी, ईश्वर सिंह रावत, भरत रावत, महिला मंगल दल अध्यक्ष विनीता देवी, युवक मंगल दल अध्यक्ष सुमित कंडारी, यात्रा के मीडिया प्रभारी प्रो. दर्शन सिंह नेगी, ढोलववादक संतोष कुमार, प्रेमलाल सहित कई ग्रामीण मौजूद रहे।

Related posts

लाइट ठीक करने को लेकर पार्षद बुटोला ने महापौर सुनील उनियाल गामा व नगर आयुक्त को दिया ज्ञापन

prabhatchingari

आफ़त की बारिश में, यहां फटा बादल,कई घर हुए बेघर, फसलें हुई बर्बाद देखिए ये खबर ।

prabhatchingari

नीतू लोहिया फाउंडेशन नव पीढ़ी को श्री रामचंद्र एवं सनातन धर्म के बारे में जागरूक करने के लिए पदयात्रा का आयोजन किया।

prabhatchingari

मेले करते हैं हमारी संस्कृति, परंपराओं और मान्यताओं को संजोए रखने का काम-रेखा आर्या

prabhatchingari

सप्ताहभर तक वीवीआईपी दौरों में शामिल रहेंगे उत्तराखंड, पीएम मोदी, अमित शाह, योगी के दौरों से बीजेपी की हलचल,

prabhatchingari

विधानसभा सत्र के लिए देहरादून शहर का ट्रैफिक प्लान जारी

prabhatchingari

Leave a Comment