Prabhat Chingari
धर्म–संस्कृति

धार्मिक अनुष्ठान के पश्चात गर्भगृह में विराजी मां राजराजेश्वरी इंद्रामती की डोली*

Advertisement

चमोली ( प्रदीप लखेड़ा )
पोखरी विकास खण्ड के कुमेड़ा गांव की आराध्य देवी मां राजराजेश्वरी इंद्रामती की विग्रह डोली भगवान बद्रीविशाल के दर्शनों के पश्चात आज धार्मिक अनुष्ठान के उपरांत विधिवत रूप से अपने गद्दी स्थल में विराजमान हो गई है।
मां इंद्रामती की डोली ने आज कुमेड़ा गांव में घर घर जाकर भक्तों एवं धियाणियों का अर्घ्य, पुष्प, भेंट, दक्षिणा स्वीकार की एवं भक्तों को आशीर्वाद दिया।
सांयकाल में हवन के पश्चात दिव्यभोज का आयोजन किया गया एवं माता को उसके मूल गद्दी स्थल में विराजमान किया गया।
माता की धियाणियों ने विदाई के जागर एवं भजन गाकर माता को अश्रुपूर्ण विदाई दी। 28 वर्षों के बाद आयोजित हुई इस बद्रीनाथ यात्रा में देश विदेश से भक्तगण माता के दर्शनों के लिए उमड़ पड़े। इस अनुष्ठान के साथ ही माता की उन्नीस दिवसीय बद्रीनाथ यात्रा का समापन हो गया है।
इस अवसर पर मन्दिर समिति के अध्यक्ष गुलाब सिंह कंडारी, कोषाध्यक्ष देवेंद्र सिंह रावत, प्रधान चंद्रमोहन सिंह नेगी, मुख्य पुजारी शिवप्रसाद खाली, भगवती प्रसाद खाली, जगमोहन भट्ट, भगवती रावत, चंद्रमोहन रावत, प्रियांशु रावत, कृपाल सिंह नेगी, जयबीर नेगी, बलवंत सिंह नेगी, प्रीतम नेगी, मनीष नेगी, राजबीर कंडारी, जयपाल सिंह रावत, धर्म सिंह रावत, ईश्वर रावत, रवि रावत, सज्जन बर्तवाल, ईश्वर राणा, दर्शन सिंह नेगी, ढोलववादक संतोष कुमार, गोविंदलाल, कमल लाल, प्रेमलाल सहित कई ग्रामीण मौजूद रहे।

Related posts

श्री नृसिंह मंदिर जोशीमठ के शीर्ष पर ध्वज चढ़ाया मंदिर समिति,

prabhatchingari

लक्ष्मी नारायण भगवान के रूप में पूजे गए दंपति

prabhatchingari

ग्रहों की चाल के मुताबिक आज का दिन

prabhatchingari

श्री हेमकुंड साहिब के कपाट इस वर्ष 25 मई को खुलेंगे

prabhatchingari

प्रसिद्ध आदिबद्री मन्दिर के कपाट 16 दिसम्बर को होंगे बंद*

prabhatchingari

माँ धारी देवी एवं भगवान श्री नागराजा देव डोली शोभायात्रा 2024 का मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने किया शुभारंभ

prabhatchingari

Leave a Comment