Prabhat Chingari
उत्तराखंड

अग्निवीरों का सेना में जाने का सपना हुआ पूरा, देश सेवा के लिए 752 अग्निवीरों ने पासिंग परेड में देश की रक्षा का लिया संकल्प

अल्मोड़ा / रानीखेत के कुमाऊं रेजीमेंट मुख्यालय में निकले 752 अग्निवीरों के कदम देश सेवा के लिए सरहदों की तरफ बढ़े हैं। 31 हफ्ते की कठिन ट्रेनिंग के बाद इन अग्निवीरों ने पासिंग परेड में शामिल होकर देश की रक्षा का संकल्प लिया।

अग्निवीरों के पहले बैच की हुई पासिंग परेड

अग्निवीरों के इस पहले बैच की ब्रिगेडियर गौरव भग्गा ने सलामी ली। परेड के बाद सभी अग्निवीर खुशी से झूम उठे।रानीखेत के सोमनाथ मैदान में शनिवार का दिन ऐतिहासिक रहा। यहां अग्निवीरों के पहले बैच की पासिंग परेड हुई, जिसे लेकर उनमें खासा उत्साह नजर आया। 752 अग्निवीरों ने कदम-कदम बढ़ाए जा खुशी के गीत गाए जा की स्वरलहरियों के बीच हुई भव्य पासिंग परेड में मार्च पास्ट किया।

अग्निवीर थल सेना का हिस्सा बनकर करेंगे देश सेवा

केआरसी कमांडेंट ब्रिगेडियर गौरव भग्गा ने मार्च पास्ट की सलामी ली और अग्निवीरों का हौसला बढ़ाते हुए तत्परता से देश सेवा में जुटने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि देश सेवा का जज्बा लिए युवाओं ने अग्निवीर बनने का निर्णय लिया जो गौरव की बात है। कहा कि सेना के लिए देश सेवा से बढ़कर कोई काम नहीं है। उन्होंने सेना में जाने को प्रेरित करने के लिए अग्निवीरों के परिजनों का आभार जताया। उन्होंने बताया कि अब ये अग्निवीर थल सेना का हिस्सा बनकर देश सेवा करेंगे और इससे देश की सुरक्षा व्यवस्था मजबूत होगी।

उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अग्निवीरों को किया सम्मानित

रानीखेत में पासिंग परेड के दौरान मुख्य अतिथि कमांडेंट ब्रिगेडियर गौरव भग्गा ने प्रशिक्षण के दौरान विभिन्न गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले अग्निवीरों को मेडल देकर सम्मानित किया। सम्मानित होने वालों में रिक्रूट रोहित कुमार, अभय कुमार, देवेंद्र बिष्ट, गौरव बिष्ट, जीवन सिंह शामिल रहे।

खुशी से झूमे अग्निवीर, कहा देश सेवा के लिए सेना में जाने का पूरा हुआ सपना पासिंग परेड के बाद अग्निवीर खुशी से झूम उठे और उनके चेहरे पर अलग ही रौनक नजर आई। मानो उन्होंने आसमान छू लिया हो। वह सेना का हिस्सा बनने पर अपने को गौरवांवित महसूस कर रहे थे। उन्होंने कहा कि बचपन से ही उन्होंने देश सेवा का जज्बा लिए सेना में जाने के लिए तैयारी की। नतीजन उन्होंने यह मुकाम हासिल किया है। कहा कि उन्हें देश की सुरक्षा की जो जिम्मेदारी मिली है, उस पर खरा उतरेंगे। कहा उनका सेना में जाने का सपना आखिरकार पूरा हुआ है, जिससे वे बेहद खुश हैं।

बेटे को वर्दी में देख परिजनों के खिले चेहरे अग्निवीर पासिंग परेड में शामिल होने दूरदराज से अग्निवीरों के परिजन भी सोमनाथ मैदान पहुंचे। जैसे ही परेड समाप्त हुई परिजनों के चेहरे भी खिल उठे। किसी ने अपने बेटे तो किसी ने अपने भाई को सेना की वर्दी में देख खुद को गौरवांवित महसूस किया। परिजनों ने कहा कि उनका बेटा, भाई देश सेवा का सबसे बड़ा धर्म निभाने जा रहा है, जो उनके लिए गौरव की बात है।

मौजूद रहे इस मौके पर डिप्टी कमांडेंट कर्नल सुनील कटारिया, कर्नल विक्रमजीत सिंह, ले. कर्नल वीरेंदर सिंह दानू, ले. कर्नल सोभी राज, कैप्टन अरविंद सिंह, ले. कर्नल ऐश्वर्य राइ जोशी, कैप्टन सुमित दहिया, सूबेदार मेजर इंदर सिंह, ट्रेनिंग जेसीओ महिमान सिंह सहित कई अधिकारी, अग्निवीर और उनके परिजन मौजूद रहे।

Related posts

खंड शिक्षा अधिकारी के स्थानांतरण पर दी भावभीनी विदाई

prabhatchingari

राज्य के बुनियादी ढांचे के विकास में ब्रिडकुल का योगदान महत्वपूर्ण: महाराज

prabhatchingari

यात्रा वाहनों के जरिये जिले में भारत सरकार की प्रमुख जनकल्याणकारी योजनाओं से लक्षित लाभार्थियों को किया जाएगा लाभान्वित*

prabhatchingari

पुलिस अधीक्षक चमोली द्वारा विश्वकर्मा दिवस पर पूर्ण विधि-विधान के साथ की गई शस्त्रों, औजारों और मशीनों की पूजा-अर्चना

prabhatchingari

चक्रगांव-साड़ा-उपराड़ी मोटरमार्ग का निरीक्षण कर सड़क की स्थिति पर मंत्री गणेश जोशी ने जताई नाराजगी।

prabhatchingari

यहां तीसरी संतान पैदा होने के बाद चली गई ग्राम प्रधान की प्रधानी.डीएम ने किए आदेश।

prabhatchingari

Leave a Comment