Prabhat Chingari
मनोरंजन

चाय और कविताएँ’ की एक शाम कवयित्री, अभिनेता और कहानीकार प्रिया मलिक के साथ

देहरादून लिटरेचर फेस्टिवल का 5वां संस्करण 27 से 29 अक्टूबर के बीच आयोजित किया जाएगा
देहरादून: देहरादून लिटरेचर फेस्टिवल (डीडीएलएफ) अनप्लग्ड ने आज यूनिसन वर्ल्ड स्कूल में प्रसिद्ध अभिनेत्री और निपुण कवयित्री प्रिया मलिक के साथ ‘चाय और कविताएं’ नामक सत्र प्रस्तुत किया। सत्र का संचालन महोत्सव सह-निदेशक और क्यूरेटर सौम्या द्वारा किया गया। अपनी कलात्मक बहुमुखी प्रतिभा के लिए जानी जाने वाली प्रिया मलिक ने अपनी उपस्थिति से इस अवसर को उजागर किया। उनके साथ गिटार और गायन पर अभिन जोशी रहे।

“‘घर’ शीर्षक से अपनी प्रारंभिक कविता सुनाते हुए, प्रिया मलिक ने साझा किया, ‘जब हमारी जड़ें मजबूत होती हैं, तभी हम एक अच्छी शुरुआत कर पाते हैं। मैं देहरादून में पली बढ़ी हूँ और मुझे यह शहर बहुत प्यारा है। मगर जब में देहरादून छोड़ बहार गयी, मैंने न चाहते हुए भी अपने शहर को नज़रअंदाज़ कर दिया। ऑस्ट्रेलिया में काफी समय बिताने के बाद जब मैं लौटी तोह इस खूबसूरत शहर की अहमियत समझ में आयी। मुझे गर्व है की मेरी जड़ें इस शहर से जुडी हैं।”

इसके बाद उन्होंने अपनी मां के प्रति प्यार के बारे में एक कविता सुनाई, जिससे दर्शकों के बीच माहौल मार्मिक हो गया। उनकी अन्य कविताएँ प्रेम, विषाद और रिश्तों के विषयों से संबंधित रहीं।

कार्यक्रम के उत्साह को बढ़ाते हुए, मौके पे उपस्थित गेस्ट ऑफ़ हॉनर, डीजीपी उत्तराखंड आईपीईएस अशोक कुमार ने देहरादून लिटरेचर फेस्टिवल के 5वें संस्करण के लिए बहुप्रतीक्षित तारीखों की घोषणा करी। 27 से 29 अक्टूबर तक आयोजित होने वाला यह महोत्सव व्यापक साहित्यिक और सांस्कृतिक अनुभव प्रदान करेगा, और देश भर से उत्साही, विचारकों और रचनाकारों को आकर्षित करेगा।

इस अवसर पर प्रसिद्ध कवि अतुल पुंडीर ने भी अपनी रचना दर्शकों के साथ साझा की। उन्होंने कहा, ”मैं डीडीएलएफ के साथ काफी लंबे समय से जुड़ा हूँ और यहां उपस्थित होना मेरे लिए सम्मान की बात है। मैं आज यहाँ अपनी कुछ कविताओं से प्यार बांटने आया हूँ।”

भावनाओं से भरी प्रिया की काव्यात्मक प्रस्तुति ने साहित्य और प्रदर्शन कला के सहज मिश्रण को प्रदर्शित किया। अपनी रचनात्मक यात्रा के बारे में प्रिया की अंतर्दृष्टि ने दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया, और अभिनय और कविता के बीच के संबंध का खूबसूरती से दर्शाया।

डीडीएलएफ के संस्थापक और निर्माता, समरांत विरमानी ने अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा, “डीडीएलएफ में हमारा उद्देश्य हमेशा से सांस्कृतिक परिदृश्य को समृद्ध करना रहा है। हम प्रिया मलिक के मनमोहक प्रदर्शन को प्रस्तुत करने और आगामी देहरादून लिटरेचर फेस्टिवल की घोषणा करते हुए रोमांचित हैं। यह फेस्टिवल साहित्य और कलात्मक अभिव्यक्ति का जश्न मनाने की हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक है।”

कार्यक्रम में यूनिसन वर्ल्ड स्कूल के छात्र-छात्राओं और स्टाफ सहित शहर की जानी-मानी हस्तियों ने हिस्सा लिया।

Related posts

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने किया दो दिवसीय “वाक एंड शॉप” एग्जीबिशन का शुभारंभ

prabhatchingari

ऐतिहासिक गौचर मेला 14 नवंबर से, तैयारियां हेतु प्रथम बैठक 23 को

prabhatchingari

उत्तराखंड की बेटी ने भारत की छाप विश्वपटल पर छोडी

prabhatchingari

ब्लेंडर्स प्राइड मिस उत्तराखंड के तहत ‘फ्रेश फेस सब टाइटल’ का आयोजन

prabhatchingari

चमोली के प्रसिद्ध बेनीताल में दो दिवसीय शहीद बाबा मोहन उत्तराखंडी मेला शुरू

prabhatchingari

डीजीपी अशोक कुमार ने किया ‘आर्ट सेंट्रियो’ कला प्रदर्शनी का उद्घाटन

prabhatchingari

Leave a Comment