Prabhat Chingari
उत्तराखंड

आयुक्त गढ़वाल मण्डल सुशील कुमार हुए सेवानिवृत्त‘‘*

पौड़ी,:-आयुक्त गढ़वाल मण्डल श्री सुशील कुमार जी आज 28 वर्ष की लोक सेवक के रूप में सेवा पूर्ण करने के उपरांत सेवानिवृत्त हुए। सेवानिवृत्ती के अवसर पर अपने संबोधन में आयुक्त गढ़वाल मण्डल ने बताया कि उनका विभिन्न प्रशासनिक पदों पर कार्य करते हुए बहुत ही अच्छा अनुभव रहा। कहा कि उनको सभी जगह उच्चस्थ-अधीनस्थों का बेहतर सहयोग प्राप्त हुआ जिस कारण अपने लोकसेवक के कार्यकाल को पूर्ण करने के पश्चात् आज सुखद अनुभूति का अहसास हो रहा है। उन्होंने सभी अधिकारियों और कार्मिकों को विकास की मुख्यधारा से अभी तक वंचित लोगों को मुख्यधारा में लाने के लिए टीम भावना से कार्य करने का संदेश दिया।

इस दौरान जिलाधिकारी पौड़ी डॉ0 आशीष चौहान ने अपने विचारों को व्यक्त करते हुए कहा गया कि किसी भी लोक सेवक को अपनी सेवा अवधि को साफ-सुथरी, बेदाग, विनम्रता और कुशलता के साथ पूर्ण करने से सर्वाधिक सुखद अहसास होता है। उन्होंने कहा कि आयुक्त महोदय सभी के लिए प्रेरणा स्त्रोत रहे तथा उन्होंने प्रशासनिक दक्षता का जो परिचय दिया वह अनुकरणीय है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्वेता चौबे ने आयुक्त महोदय को सेवानिवृत्ति की शुभकामनाएं देते हुए प्रशासनिक क्षेत्र में उनके द्वारा किये गये बेहतर कार्यों से प्रेरणा लेने की बात कही।
मुख्य विकास अधिकारी अपूर्वा पाण्डे ने आयुक्त महोदय द्वारा टीम भावना से कार्य करने के दिये गये संदेश को आत्मसात करते हुए कार्य करने की बात कही ।

इस दौरान अपर आयुक्त गढ़वाल मण्डल एन.एस. क्वीराल ने अपने शब्दों में आयुक्त महोदय के सेवानिवृत्ति सम्मान पत्र को पढ़कर सुनाया तथा आयुक्त महोदय को एक आदर्श प्रशासक बताते हुए उनसे बहुत कुछ सीखने और प्रेरणा लेने की बात कही।

इस दौरान सेवानिवृत्त विदाई सम्मान कार्यक्रम का स्वागत-समापन संबोधन जिला सूचना अधिकारी पौड़ी वीरेन्द्र सिंह राणा द्वारा किया गया।

बताते चलें की उन्होंने बहुत ही कुशलता, दक्षता और कर्तव्यनिष्ठा के साथ अपनी सेवा अवधि पूर्ण की है। उन्होंने अपने कैरियर की शुरूआत शॉर्ट सर्विस कमिशन के माध्यम से भारतीय सेना से की ओर कैप्टन के पद को सुशोभित किया। उसके उपरांत वे उत्तर प्रदेश सिविल सर्विसेज परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद उत्तर प्रदेश प्रादेशिक सेवा में आये तथा उनकी प्रथम नियुक्ति 30 जनवरी 1995 में बतौर डिप्टी कलेक्टर के रूप में हापुड़, गाजियाबाद में हुई। इसके पश्चात वे विभिन्न जनपदों में प्रशासनिक सेवा में कार्यरत रहे। उन्होंने सन् 2000 में सहारनपुर में उप जिला मजिस्ट्रेट के पद पर कार्यरत रहने के उपरांत उत्तराखंड राज्य सेवा हेतु चुना। इसके उपरांत उत्तराखंड में भी विभिन्न जनपदों में प्रशासनिक पद पर कार्यरत रहे। जिनमें देहरादून व हरिद्वार जनपदों में मुख्य विकास अधिकारी तथा सचिव हरिद्वार रूड़की विकास प्राधिकरण व सचिव एमडीडीए पद पर कार्यरत होने के उपरांत इनको वर्ष 2005 में भारतीय प्रशासनिक सेवा आई0ए0एस0 कैडर प्राप्त हुआ। जिसके उपरांत वे दिनांक 19 जनवरी 2015 से दिनांक 03 नवम्बर 2015 तक बतौर जिलाधिकारी पिथौरागढ़ और दिनांक 19 अप्रैल 2017 से दिनांक 1 जनवरी 2019 तक जिलाधिकारी पौड़ी के पद पर कार्यरत रहे। इसके उपरांत वे आयुक्त आबकारी तथा सचिव खाद्य व सचिव राजस्व उत्तराखंड शासन में कार्यरत रहे। वर्ष 2021 में दिनांक 17 जुलाई 2021 से 2 दिसम्बर 2021 तक बतौर कुमांऊ कमिश्नर के पद पर कार्यरत रहे। इसके बाद आज दिनांक 30 जून 2023 तक आयुक्त गढ़वाल मंडल के पद पर सुशोभित रहे हैं।

इस प्रकार आयुक्त महोदय ने अपने कार्यकाल में बहुत ही दक्षता और निपुणता के साथ प्रशासनिक कार्यो का संपादन किया। इनके अनुभवों से अधीनस्थ अधिकारियों व कर्मचारियों को काफी कुछ सीखने की प्रेरणा मिली।
आज दिनांक 30 जून, 2023 को उनकी सेवानिवृत्ति के अवसर पर आयुक्तालय परिवार एवं गढ़वाल मण्डल के समस्त मण्डलीय अधिकारी व कार्मिकों द्वारा सेवानिवृत्ति की बधाई देते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की गयी।

इस अवसर पर वन संरक्षक गढ़वाल मण्डल पंकज कुमार, मण्डलीय अर्थ एवं संख्याधिकारी शिल्पा भाटिया, अपर निदेशक कृषि डॉ0 परमाराम, अपर निदेशक उद्यान रतन कुमार, मण्डलीय अपर अर्थ एवं संख्याधिकारी अरविन्द मिश्रा सहित वैयक्तिक सहायक जिलाधिकारी दीपक नेगी आदि ने आयुक्त महोदय को सौम्य, विनम्र, कर्मठ और प्रेरणास्त्रोत बताते हुए उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की।
इस दौरान क्षेत्राधिकारी पुलिस श्याम दत्त नौटियाल सहित मण्डलीय व जनपदीय अधिकारी, कार्मिक सहित मीडियाकर्मी उपस्थित थे।

Related posts

सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने सैन्यधाम का किया निरीक्षण, निर्माण कार्यों की धीमी गति पर मंत्री ने लगाई अधिकारियों को फटकार, दिन रात कार्य करने के निर्देश।*

prabhatchingari

मंत्री गणेश जोशी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का किया स्वागत।

prabhatchingari

निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सभी वाहनों में जीपीएस ट्रैकिंग की व्यवस्था करना अनिवार्य : जोगदंडे*

prabhatchingari

लोकप्रिय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई ऐसे चेहरे नजर आते हैं जो सितारों से कम नहीं है- आकांक्षा बिष्ट

prabhatchingari

उत्तरांचल प्रेस क्लब की ओर से आयोजित शूटिंग प्रतियोगिता में मुकेश और रश्मि विजेता रहे

prabhatchingari

चमोली में नमामि गंगे प्रोजेक्ट की साइट पर फैला करंट, 15 लोगों की मौत, दरोगा समेत कई झुलसे ।

prabhatchingari

Leave a Comment