Prabhat Chingari
धर्म–संस्कृति

श्री कृष्ण जन्म की कथा सुन भाव विभोर हुए श्रद्धालु

Advertisement
देहरादून,भगवान श्रीकृष्ण की जन्म कथा का प्रसंग सुनकर श्रद्धालु भाव विभोर हो उठे। कथा बाल व्यास आचार्य कार्तिक पंत ने कहा कि भगवान श्रीकृष्ण ने अपने भक्तों का उद्धार व पृथ्वी को दैत्य शक्तियों से मुक्त कराने के लिए अवतार लिया था। उन्होंने कहा कि जब-जब पृथ्वी पर धर्म की हानि होती है, तब-तब भगवान धरती पर अवतरित होते हैं। श्रीमद्भागवत गंगा विहार शिव मंदिर प्रांगण देहरादून
पर चल रही श्रीमद्भागवत कथा के चौथे दिन भगवान श्रीकृष्ण के जन्म का प्रसंग व उनके जन्म लेने के गूढ़ रहस्यों को कथा व्यास ने बेहद संजीदगी के साथ सुनाया। कथा प्रसंग सुनाते हुए कथा व्यास ने बताया कि जब अत्याचारी कंस के पापों से धरती डोलने लगी, तो भगवान कृष्ण को अवतरित होना पड़ा। सात संतानों के बाद जब देवकी गर्भवती हुई, तो उसे अपनी इस संतान की मृत्यु का भय सता रहा था। भगवान की लीला वे स्वयं ही समझ सकते हैं। भगवान कृष्ण के जन्म लेते ही जेल के सभी बंधन टूट गए और भगवान श्रीकृष्ण गोकुल पहुंच गए। कथा का संगीतमयी वर्णन सुन श्रद्धालुगण झूमने लगे। इस दौरान क्षेत्रीय पार्षद मनीष कुमार ,गुड्डी भंडारी नरेंद्र कोटियाल ,दिनेश कोटियाल भंडारी परिवार,सहयोग रहा।

Related posts

सोमवार को आयोजित होने वाली शोभायात्रा में रहेगा राजधानी का रूट डाइवर्ट

prabhatchingari

सोमवती अमावस्या के साथ आज मनाया जाएगा लोक पर्व हरेला , श्रावण मास में पहली बार व्रत उठा रहे हैं तो जान लें व्रत रखें या नहीं

prabhatchingari

मुख्यमंत्री पुष्कर धामी ने सम्पूर्ण कैबिनेट के साथ किये रामलला के दर्शन

prabhatchingari

श्रीमद् भागवत कथा के दूसरे दिन भगवान के 24 अवतारों का वर्णन सुन भावुक हुए श्रद्धालु

prabhatchingari

हिंदू समाज को स्वालंबी स्वाभिमान व राष्ट्रभक्ति की चेतना जागृत करने हेतु , निकलेगी शौर्य जागरण यात्रा।

prabhatchingari

श्री सत्य साई मंदिर सुभाष नगर से निकाली गई पूजित अक्षत कलश शोभा यात्रा

prabhatchingari

Leave a Comment