Prabhat Chingari
धर्म–संस्कृति

श्रीमद् भागवत कथा के पहले दिन हुआ गणेश पूजन, कथा महात्म्य व मंगलाचरण का किया गया वर्णन

Advertisement

गंगा विहार देहरादून में आयोजित श्रीमद्भागवत महापुराण कथा प्रेम यज्ञ के प्रथम दिन बुधवार को प्रवचन करते हुए आचार्य बाल व्यास कार्तिक पंत ने श्रीमद्भागवत कथा की महत्ता पर विस्तार से प्रकाश डाला।उन्होंने कहा कि बिनु परतीती होई नहीं प्रीति अर्थात माहात्म्य ज्ञान के बिना प्रेम चिरंजीव नहीं होता, अस्थायी हो जाता है। धुंधकारी चरित्र पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आत्मसात कर लेें तो जीवन से सारी उलझने समाप्त हो जाएगी। द्रौपदी, कुन्ती महाभागवत नारी है। कुन्ती स्तुति को विस्तारपूर्वक समझाते हुए परीक्षित जन्म एंव शुकदेव आगमन की कथा सुनाई। पश्चात गौकर्ण की कथा सुनाई गई। व्यास जी ने कहा कि भगवान की लीला अपरंपार है। वे अपनी लीलाओं के माध्यम से मनुष्य व देवताओं के धर्मानुसार आचरण करने के लिए प्रेरित करते हैं। श्रीमदभागवत कथा के महत्व को समझाते हुए कहा कि भागवत कथा में जीवन का सार तत्व मौजूद है आवश्यकता है निर्मल मन ओर स्थिर चित्त के साथ कथा श्रवण करने की। भागवत श्रवण से मनुष्य को परमानन्द की प्राप्ति होती है। भागवत श्रवण प्रेतयोनी से मुक्ति मिलती है। चित्त की स्थिरता के साथ ही श्रीमदभागवत कथा सुननी चाहिए। भागवत श्रवण मनुष्य केे सम्पूर्ण कलेश को दूर कर भक्ति की ओर अग्रसर करती है। उन्होंने अच्छे ओर बुरे कर्मो की परिणिति को विस्तार से समझाते हुए आत्मदेव के पुत्र धुंधकारी ओर गौमाता के पुत्र गोकरण के कर्मो के बारे में विस्तार से वृतांत समझाया ओर धुंधकारी द्वारा एकाग्रता पूर्ण भागवत कथा श्रवण से प्रेतयोनी से मुक्ति बताई तो वही धुंधकारी की माता द्वारा संत प्रसाद का अनादर कर छल.कपट से पुत्र प्राप्ती ओर उसके बुरे परिणाम को समझाया।मनुष्य जब अच्दे कर्मो के लिए आगे बढता है तो सम्पूर्ण सृष्टि की शक्ति समाहित होकर मनुष्य के पीछे लग जाती है ओर हमारे सारे कार्य सफल होते है। ठीक उसी तरह बुरे कर्मो की राह के दौरान सम्पूर्ण बुरी शक्तियॉ हमारे साथ हो जाती है। इस दौरान मनुष्य को निर्णय करना होता कि उसे किस राह पर चलना है। छल ओर छलावा ज्यादा दिन नहीं चलता। छल रूपी खटाई से दुध हमेशा फटेगा। छलछिद्र जब जीवन में आ जाए तो भगवान भी उसे ग्रहण नहीं करते है- निर्मल मन प्रभु स्वीकार्य है। छलछिद्र रहित ओर निर्मल मन भक्ति के लिए जरूरी है। इस अवसर पर कई भक्त गणों सहित संदीप सिंह राणा प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा किसान मोर्चा, दामोदर भट्ट,  हरीश कांडपाल, पुष्पा, जानकी,उपस्थित रहे।

Related posts

35 साल बाद पांडव नृत्य का आयोजन गांव में लौट आई हैं रौनक

prabhatchingari

24 से 29 अक्टूबर तक यमुना आश्रम बागी नैनबाग में होगा योग, ध्यान एवम साधना शिविर का आयोजन

prabhatchingari

ग्रामीणों ने किया हंगामा; परिजन बोले- सरकारी लाइनमैन ने परमिट होने के बावजूद चालू की सप्लाई | The villagers created a ruckus; The family said – the government lineman started the supply despite having a permit

cradmin

स्पिक मैके स्टेट कन्वेंशन 1 से 3 सितंबर को यूनिसन वर्ल्ड स्कूल में होगा आयोजित

prabhatchingari

आरोपी बेटा गिरफ्तार, देर रात शराब के नशे में मां-बेटे में हुआ था विवाद | Accused son arrested late night there was a dispute between mother and son under the influence of alcohol

cradmin

भारत रंग महोत्सव वैश्विक एकता को बढ़ावा देने का सफल प्रयास: महाराज

prabhatchingari

Leave a Comment