Prabhat Chingari
उत्तराखंड

638 हेक्टेयर जंगल पर अवैध अतिक्रमण, बड़ा सवाल , क्या करते रहे डीएफओ और अन्य अफसर।

,देहरादून।,सीएम पुष्कर सिंह धामी के अतिक्रमण हटाने के मामले में वन विभाग की सुस्ती पर नाराजगी के बाद पीसीसीएफ हॉफ अनूप मलिक ने आज शिवालिक सर्कल और राजाजी टाइगर रिजर्व के वनाधिकारियों की बैठक ली। पीसीसीएफ ने सख्त लहजे में कहा कि जंगल में गुज्जरों की कैसी आबादी बढ़ गई और कैसे उन्होंने जंगल की जमीन पर कब्जे कर खेती की है। उन्होंने सेटलाइट साक्ष्य के आधार पर ऐसे अतिक्रमण को दो हफ्ते के भीतर हटाने के लिए कहा। मलिक ने कहा कि सभी डीएफओ ,वनाधिकारी अपनी जिम्मेदारी समझे अन्यथा वो अपनी लापरवाही के लिए खुद जिम्मेदार होंगे।उन्होंने अधिकारियो को निर्देशित किया कि सरकार और उत्तराखंड हाई कोर्ट के निर्देशों का पालन करते हुए , नदी श्रेणी और खनन नदियों किनारे चिन्हित अतिक्रमण को दो हफ्ते में हटाए।
मलिक ने कहा कि हर फॉरेस्ट डिविजन में समन्वयक कार्मिक नियुक्त करके अतिक्रमण हटाओ अभियान के नोडल अधिकारी को मुख्यालय में रोजाना रिपोर्ट देंगे जिसे सीएम कार्यालय एवं शासन को भेजा जाएगा। मलिक ने चार माह में केवल शिवालिक सर्कल में 25 हैक्टेयर वन भूमि ही अतिक्रमण मुक्त किए जाने पर नाराजगी जताई और इस अभियान में वन अधिकारियों को फील्ड में जाकर एक्शन लेने की जरूरत जताई बैठक में देहरादून में 580 हैक्टेयर, हरिद्वार वन प्रभाग में, 51 हैक्टेयर, राजाजी टाइगर रिजर्व में 7 हैक्टेयर वन क्षेत्र में अतिक्रमण चिन्हित किए जाने के जानकारी सामने आई, इसके अलावा नदी श्रेणी और नदी किनारे में अतिक्रमण को तुरंत हटाए जाने के लिए पीसीसीएफ मलिक ने वनाधिकारियों को निर्देशित किया।
बैठक में अतिक्रमण हटाओ अभियान के नोडल अधिकारी डॉ.पराग मधुकर धकाते ,शिवालिक सी एफ राजीव धिमान,लैंस डाउन के डीएफओ नवीन पंत, हरिद्वार के डीएफओ नीरज कुमार, देहरादून के नीतीश मनी त्रिपाठी, गोविंद वन्यजीव विहार के डिप्टी डायरेक्टर मयंक शेखर झा, राजाजी टाइगर रिजर्व के निदेशक साकेत बडोला, डिप्टी डायरेक्टर कहकँशा नसीम, एसडीओ सहसपुर शिप्रा आदी उपस्थित थे।

Related posts

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय गोपेश्वर में हिन्दी पखवाड़ा में लघु कथा एवं काव्य पाठ का आयोजन हुआ*

prabhatchingari

पति-पत्नी की फोटो किस दिशा में लगानी चाहिए?

prabhatchingari

अंतरराष्ट्रीय मिलेट महोत्सव के उपलक्ष्य में एनसीसी के कैडेट्स ने बनाये मोटे अनाजों के ब्यंजन

prabhatchingari

औली के पर्यटन विकास व खेल सुविधाओं में इजाफे के लिए ‘औली विकास प्राधिकरण’ का गठन किया जाएगा

prabhatchingari

चंद्रबनी चोयला में घरों में घुसा पानी महापौर व क्षेत्रीय विधायक  ने किया क्षेत्र का निरीक्षण……

prabhatchingari

तोता घाटी में भूखलन से ऋषिकेश बदरीनाथ हाईवे बंद

prabhatchingari

Leave a Comment