Prabhat Chingari
उत्तराखंड

मलाबार गोल्ड एंड डायमंड्स ने रैंड रिफाइनरी के साथ साझेदारी की

मलाबार गोल्ड एंड डायमंड्स ने दक्षिण अफ्रीका स्थित रैंड रिफाइनरी से खरीदा 100% ट्रेसोबल ‘रैंडप्योर’ सोना; साबित की एथिकल सोर्सिंग की अपनी प्रतिबद्धत
देहरादून, अग्रणी ज्वेलरी रिटेलर मलाबार गोल्ड एंड डायमंड्स ने 100% ट्रेसेबल ‘रैंडप्योर’ सोना खरीदने के लिए दुनिया के अग्रणी सोना-चांदी रिफाइनरों में एक रैंड रिफाइनरी के साथ साझेदारी की। मलाबार गोल्ड एंड डायमंड्स के एमडी – इंटरनेशनल ऑपरेशंस शामलाल अहमद ने डीन सुब्रमण्यन (सीएफओ – रैंड रिफाइनरी) और मालाबार गोल्ड एंड डायमंड्स के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में प्रवीण बैजनाथ (सीईओ – रैंड रिफाइनरी) से 100% ट्रेसेबल व एथिकली सोर्स किए गए ‘रैंडप्योर’ सोने की पहली खेप प्राप्त की ।

रैंड रिफाइनरी को लंदन बुलियन मार्केट एसोसिएशन (एलबीएमए) से मान्यता मिली हुई है और वह दक्षिणी गोलार्ध में एकमात्र रेफरी दर्जा प्राप्त रिफाइनर है। उन्होंने 100% ट्रेसेबल व प्रमाणित ‘रैंडप्योर’ गोल्ड का उत्पादन करने के अपने समर्पण के साथ उद्योग जगत में मानक विकसित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। रैंडप्योर गोल्ड को पूरी तरह से एथिकल तरीकों से सोर्स किया जाता है और उनकी मौलिकता का पूरी तरह से पता लगाया जा सकता है। रैंड रिफाइनरी की सिक्योरिटीज एक्सचेंज पर लिस्टेड खदानों से प्राप्त कच्चे माल को एक डेडिकेटेड प्रोडक्शन लाइन में प्रसंस्कृत किया जाता है. रैंडप्योर गोल्ड के प्रत्येक बैच पर एक विशिष्ट ‘रैंडप्योर’ मार्क और ‘सर्टिफिकेट ऑफ एश्योरेंस’ होता है, जो ग्राहकों को कच्चे माल के बारे में आवश्यक जानकारियां प्रदान करता है, जिसमें इसके कंट्री ऑफ ऑरिजिन, माइनिंग पीरियड, कंफ्लिक्ट-फ्री नेचर आदि शामिल हैं।

मलाबार ग्रुप के चेयरमैन एमपी अहमद ने कहा, “मलाबार गोल्ड एंड डायमंड्स में हमारे काम करने के तरीके स्थाई और जिम्मेदार व्यावसायिक प्रथाओं से तैयार हुए हैं । रैंड रिफाइनरी के साथ हमारे सहयोग और रैंडप्योर सोने की खरीद के माध्यम से हम उद्योग जगत के कठोर मानदंडों पर खरा उतरने वाले वाले सोने का चयन कर जिम्मेदार व एथिकल सोर्सिंग के प्रति अपनी प्रतिबद्धता साबित कर रहे हैं ।’’

Related posts

राज्य स्तरीय तीलू रौतेली पुरुस्कार के आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी आगे,अब 17 जुलाई तक कर सकते हैं आवेदन

prabhatchingari

वाहन हुआ दुर्घटनाग्रस्त, SDRF ने चलाया बचाव अभियान…..

prabhatchingari

शिक्षकों की स्थाई नियुक्ति होने तक होगी वैकल्पिक व्यवस्था

prabhatchingari

*28 अगस्त को मसूरी में आयोजित होने वाले रक्षाबंधन समारोह में बतौर मुख्य अथिति शामिल होंगे केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र शेखावत*

prabhatchingari

मंत्री गणेश जोशी ने हरिद्वार पहुंचकर जगतगुरु शंकराचार्य से भेंट कर लिया आशीर्वाद।*

prabhatchingari

राजकीय शिक्षकों का प्रदेशभर में सीईओ कार्यालयों पर धरना- प्रदर्शन

prabhatchingari

Leave a Comment