Prabhat Chingari
उत्तराखंडराष्ट्रीय

आपातकाल दिवस की बरसी पर भाजपा द्वारा प्रबुद्ध जनों का सम्मान करते मंत्री गणेश जोशी ..

ऋषिकेश, :- कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी रविवार को नगर निगम सभागार ऋषिकेश पहुंचें। जहां उन्होंने भारतीय जनता पार्टी, ऋषिकेश द्वारा आयोजित आपातकाल दिवस की बरसी पर आयोजित प्रबुद्ध सम्मेलन के प्रतिभाग किया। कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर मंत्री गणेश जोशी ने कार्यक्रम में उपस्थित प्रबुद्धजनों एवं लोकतंत्र सैनानियों के परिवारजनों को भी शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया।

इस अवसर पर काबीना मंत्री गणेश जोशी ने अपने संबोधन में कहा आज के ही दिन (25 जून 1975 ) में इंदिरा गांधी सरकार ने देश में आपातकाल लगाकर देश के लोकतंत्र को कुचलने का काम किया था। नेताओं को जेल में डाल दिया गया। संवैधानिक शक्तियों को ही समाप्त कर दिया गया था।आपातकाल 25 जून 1975 से 21 मार्च 1977 तक की 21 महीने की अवधि में भारत में आपातकाल लगा था। मंत्री ने कहा स्वतंत्र भारत के इतिहास में यह सबसे विवादास्पद काल था। आपातकाल में जनता के मौलिक अधिकार स्थगित थे। मीडिया पर भी अंकुश लगा दिया गया था। विरोधी दल के अधिकांश नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था। इसमें गिरफ्तार व्यक्ति को पेशी और जमानत का अधिकार नहीं था, इसके अलावा परिवार नियोजन के नाम पर लोगों की जबरन नसबंदी जैसे अत्याचार भी इस दौरान हुए थे।
उन्होंने कहा इतना ही नहीं इसमें एक फैसला और था कि संसद और विधानसभा का कार्यकाल 6 साल करने का उन्होंने कहा आपको जानकर हैरानी होगी कि इंदिरा गांधी का यह फैसला 2019 तक जिस राज्य में लागू रहा, वो जम्मू-कश्मीर था। मंत्री ने कहा ये दिन याद दिलाता है, कि किस तरह कांग्रेस सरकार ने दमनकारी नीति के तहत लोगों में डर पैदा किया और अपनी सरकार बचाने के लिए मनमानी की। कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने कहा साल 2019 में मोदी सरकार के एक अहम फैसले से आपातकाल से चली आ रही परंपरा का आखिरकार अंत हुआ। उन्होंने कहा मोदी सरकार ने भले ही विपक्ष की आलोचना सही और जम्मू-कश्मीर के नेताओं के गुस्से का भी सामना किया लेकिन 5 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह की कड़ी कोशिश के बाद आखिरकार जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के साथ ही राज्य की विधानसभा का कार्यकाल पांच साल का हो गया। इसलिए इस दिन को भाजपा काले दिवस के रूप में मना रही है। इसके साथ ही भाजपा लोकतंत्र के उन प्रहरियों को भी याद कर रही है, जिन्हें आपातकाल के दौरान जेलों में डाल दिया गया था।इन लोगों को किया गया सम्मानित*लोकतंत्र सेनानी स्व. ज्ञान सिंह नेगी के परिवार से उनके पुत्र दीपक नेगी, स्व. डॉ. सुरेश चंद्र शर्मा के सुपुत्र बृजेश चंद्र शर्मा, लाला इंद्रसेन अग्रवाल की पुत्रवधू शोभा रानी, प्रदीप अग्रवाल की धर्मपत्नी उषा रानी, शेर सिंह राणा, मनोहर सिंह रावत, घनश्याम बिरला, बिहारीलाल, आदि लोगो को सम्मानित किया गया।इस अवसर पर मेयर अनीता ममगाईं, जिला अध्यक्ष रविंद्र राणा, महा जनसंपर्क अभियान जिला संयोजक दीपक धमीजा, गोविंद अग्रवाल, विनय उनियाल, बृजेश चंद्र शर्मा, पूर्व राज्य मंत्री संदीप गुप्ता,पूर्व राज्य मंत्री कृष्ण कुमार सिंघल, मंडल अध्यक्ष दिनेश पयाल, सुरेंद्र सिंह सहित कई लोग उपस्थित रहे।

Related posts

11वीं वाहिनी एसएसबी डीडीहाट में वृक्षारोपण करते मंत्री गणेश जोशी

prabhatchingari

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय गोपेश्वर का सात दिवसीय शिविर शुरू*

prabhatchingari

राज्य स्तरीय तीलू रौतेली पुरुस्कार के आवेदन की अंतिम तिथि बढ़ी आगे,अब 17 जुलाई तक कर सकते हैं आवेदन

prabhatchingari

भारतीय जनता पार्टी के पार्टी ज्वाइनिंग कार्यक्रम के तहत कर्णप्रयाग विधानसभा में 429 लोगों ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की

prabhatchingari

महाराज ने सिद्धेश्वर मंदिर में साफ सफाई के बाद पूजा अर्चना की

prabhatchingari

युवक के लिए देवदूत बने SDRF जवान, खाई से किया सकुशल रेस्क्यू

prabhatchingari

Leave a Comment