Prabhat Chingari
उत्तराखंड

न्‍यूगो: हरित भविष्य के लिए सस्टेनेबल इंटर-सिटी ट्रैवल का सशक्तीकरण

देहरादून- 13 जुलाई 2023: जलवायु परिवर्तन और पर्यावरणीय चिंताओं को देखते हुए, अपनी रोजाना की जिन्‍दगी में स्‍थायित्‍वपूर्ण पद्धतियों को अपनाना बेहद महत्‍वपूर्ण हो गया है। एक क्षेत्र, जहाँ हम उल्‍लेखनीय प्रभाव ला सकते हैं, वह है हमारे परिवहन विकल्‍प। परिवहन के पर्यावरण-हितैषी तरीकों को अपनाकर हम कार्बन का उत्‍सर्जन कम करने और अपनी धरती के लिए अधिक स्‍वच्‍छ तथा सेहतमंद भविष्‍य बनाने में योगदान दे सकते हैं। हमने पर्यावरण के अनुकूल परिवहन के महत्‍व पर जोर दिया और न्‍यूगो की पेशकश की, जोकि एक क्रांतिकारी इलेक्ट्रिक बस सेवा है और यह अंतर्शहरी यात्रा के स्‍थायित्‍वपूर्ण विकल्‍पों की पेशकश करती है।

पर्यावरण के अनुकूल परिवहन में वे विभिन्‍न विकल्‍प आते हैं, जो पर्यावरण के संरक्षण एवं ऊर्जा क्षमता को प्राथमिकता देते हैं। शहरों के भीतर चलते हुए लोग पैदल, बाइक से काम चला सकते हैं या कार में अकेले यात्रा करने के बजाए सार्वजनिक परिवहन को चुन सकते हैं। इससे न सिर्फ यातायात की सघनता कम होती है, बल्कि कार्बन का उत्‍सर्जन भी कम होता है। सार्वजनिक परिवहन प्रणालियाँ, जैसे के बसें और ट्रेन सक्षम तरीके से लोगों की एक बड़ी संख्‍या का परिवहन कर सकती हैं, जिससे सड़कों पर कुछ वाहन ही होंगे और वायु प्रदूषण कम होगा।

निजी वाहनों पर भरोसा करने वालों के लिये भी स्‍थायित्‍वपूर्ण विकल्‍प उपलब्‍ध हैं। कारपूलिंग के द्वारा लोग राइड शेयर कर सकते हैं, जिससे सड़क पर वाहनों की संख्‍या कम होगी और ईंधन की खपत में भी कमी आएगी। इसके अलावा, इलेक्ट्रिक या हाइब्रिड वाहन लेने से ग्रीनहाउस गैसों का उत्‍सर्जन और जीवाष्‍म ईंधनों पर निर्भरता महत्‍वपूर्ण ढंग से कम होती है।

अंतर्शहरी परिवहन के मामले में न्‍यूगो अपनी अभिनव इलेक्ट्रिक बस सेवा से मार्ग प्रशस्‍त कर रही है। न्‍यूगो इंदौर-भोपाल, दिल्‍ली–चंडीगढ़, दिल्‍ली-आगरा, दिल्‍ली–देहरादून, दिल्‍ली-जयपुर, आगरा-जयपुर, बेंगलुरु-तिरुपति, चेन्‍नई-तिरुपति, चेन्‍नई-पॉन्डिचेरी और हैदराबाद-विजयवाड़ा जैसे मार्गों के लिये स्‍थायित्‍वपूर्ण एवं सुविधाजनक यात्रा समाधान प्रदान करती है और नये मार्ग जल्‍दी ही जोड़े जाएंगे। यह इलेक्ट्रिक बसें ऊर्जा के प्रदूषण-रहित स्रोतों से ताकत लेती हैं और टेलपाइप से शून्‍य उत्‍सर्जन करती हैं। न्‍यूगो को चुनकर यात्री अपना कार्बन फुटप्रिंट महत्‍वपूर्ण ढंग से कम करते हुए आरामदायक और भरोसेमंद परिवहन का आनंद ले सकते हैं।

ग्रीनसेल मोबिलिटी के सीईओ एवं एमडी श्री देवेन्‍द्र चावला के अनुसार, “हमारा मानना है कि स्‍थायित्‍वपूर्ण परिवहन केवल एक विकल्‍प नहीं है, बल्कि भविष्‍य को ज्‍यादा हरा-भरा बनाने का एक जरूरी हिस्‍सा है। अपनी इलेक्ट्रिक बस सेवा के साथ हमारा लक्ष्‍य यात्रियों को यात्रा का सुरक्षित, स्‍थायित्‍वपूर्ण एवं सुविधाजनक अनुभव देना और पारंपरिक अंतर्शहरी परिवहन का पर्यावरण के अनुकूल विकल्‍प प्रदान करना है ।”

न्‍यूगो स्‍थायित्‍वपूर्णता के सिद्धांतों को लेकर प्रतिबद्ध है और लगातार अपनी इलेक्ट्रिक बस सेवा का ज्‍यादा शहरों तथा क्षेत्रों में विस्‍तार करने के तरीके खोज रही है। न्‍यूगो जैसे पर्यावरण के अनुकूल परिवहन विकल्‍पों को अपनाकर लोग जलवायु परिवर्तन को कम करने के लिये सक्रियता से योगदान दे सकते हैं और आने वाली पीढ़ियों के लिये ज्‍यादा सेहतमंद पर्यावरण बना सकते हैं।

 

 

Related posts

सड़क दुर्घटना में भाजपा नेता की मौत

prabhatchingari

भाजपा ने दो नए चेहरों पर खेला दांव, उत्तराखंड की इन दो सीटों हरिद्वार और पौड़ी पर ये होंगे नए चेहरे

prabhatchingari

रिकार्डो पावेल का शतक, इंडिया कैपिटल्स की पहली जीत

prabhatchingari

आकाश बायजूस ने यूनिवर्सिटी एंट्रेंस टेस्ट (CUET) 2023 में लहराया परचम,

prabhatchingari

गोपेश्वर शहर में यूथ क्लब बी द चेंज के सदस्यों ने किया वृहद सफाई अभियान*

prabhatchingari

डेंगू की रोकथाम के लिए ग्राउंड ज़ीरो पर स्वास्थ्य सचिव आर राजेश कुमार

prabhatchingari

Leave a Comment