Prabhat Chingari
धर्म–संस्कृति

फिजिक्स वाला ने देहरादन में तकनीक सक्षम ऑफ़लाइन सेंटर पीडब्ल्यू विद्यापीठ का शुभारंभ किया।

Advertisement

पीडब्ल्यूएनएसएटी 2023 के तहत छात्रों को 200 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति मिलेगी।

देहरादून,फिजिक्स वाला (पीडब्लू), एक अग्रणी यूनिकॉर्न एड-टेक कंपनी है, जिसने भारत बड़े पैमाने पर शिक्षा को लोकतांत्रिक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है, फिजिक्स वाला (पीडब्लू) ने देहरादून में एक नया तकनीक सक्षम ऑफ़लाइन सूचना केंद्र, पीडब्लू विद्यापीठ लॉन्च किया है, कार्यात्मक टेक सक्षम ऑफ़लाइन केंद्र पीडब्लू विद्यापीठ देहरादून में यह पूरी तरह से बहुत जल्द खुलेगा।.

पीडब्ल्यूएनएसएटी 2023 (फिजिक्स वाला नेशनल स्कॉलरशिप कम एडमिशन टेस्ट) के माध्यम से छात्रों के पास 100% तक छात्रवृत्ति प्राप्त करने का अवसर है। पीडब्ल्यूएनएसएटी के माध्यम से पीडब्ल्यू मेधावी छात्रों को 200 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति प्रदान कर रहा है। परीक्षा ऑफ़लाइन और ऑनलाइन दोनों मोड में आयोजित की जाएगी। यह कक्षा 6 से 12 तक के छात्रों के साथ ड्रॉपर्स के लिए भी होगी, जो जेईई या नीट की तैयारी करने के इच्छुक हैं।

पीडब्ल्यू एनएसएटी परीक्षा 1, 8 और 15 अक्टूबर 2023 को ऑफलाइन मोड में आयोजित की जाएगी और ऑनलाइन मोड में छात्र 1 से 15 अक्टूबर 2023 तक परीक्षा दे सकते हैं। परीक्षा के लिए पंजीकरण पीडब्ल्यू वेबसाइट, ऐप या निकटतम ऑफ़लाइन विद्यापीठ सेंटर पर 15 अक्टूबर, 2023 तक कराया जा सकता है। परीक्षा के परिणाम 20 अक्टूबर, 2023 को घोषित किए जाएंगे।’

शहर के महापौर श्री सुनील उनियाल गामा जी ने हयात होटल देहरादून में आयोजित एक कार्यक्रम में देहरादून और यूके राज्य के लिए PWNSAT (फिजिक्स वाला नेशनले स्कॉलरशिप कम एप्टीट्यूड टेस्ट) लॉन्च किया। इस कार्यक्रम में कई प्रसिद्ध और सम्मानित शिक्षाविदों, स्कूल प्रिंसिपलों के साथ-साथ फिजिक्स वाला (पीडब्ल्यू) के अन्य अधिकारियों की उपस्थिति देखी गई। पीडब्लू (फिजिक्स वाला) भारत में छात्रों द्वारा सबसे अधिक पसंद की जाने वाली कोचिंग है और एक अग्रणी यूनिकॉर्न एड-टेक कंपनी है।

शहर के महापौर श्री सुनील उनियाल गामा जी ने देहरादून के पीडब्ल्यू में पढ़ रहे ऑनलाइन छात्र अनमोल शर्मा को भी सम्मानित किया, जिन्होंने नीट 2023 में सफलता हासिल की और वर्तमान में दून मेडिकल कॉलेज में पढ़ रहे हैं।

अनमोल ने अपनी सफलता की कहानी भी साझा की और बताया कि कैसे पीडब्ल्यू ने उनकी मदद की, उन्होंने कहा कि यह देहरादून और राज्य के इच्छुक इंजीनियरिंग और मेडिकल छात्रों के लिए एक बड़ा अवसर है पीडब्ल्यू देहरादून में अपनी ऑफलाइन शाखा, विद्यापीठ खोल रहा है, देहरादून में ही सबसे किफायती मूल्य पर सर्वोत्तम श्रेणी की कोचिंग प्राप्त कर सकते हैं। इस शैक्षणिक सत्र के लिए क्लासेज़ अक्टूबर 2023 से शुरू होंगी। इस बीच, छात्र शहर में शीघ्र खुल रहे विद्यापीठ सेंटर में स्थित सूचना केंद्रों पर जाकर प्रवेश, छात्रवृत्ति, पंजीकरण, पाठ्यक्रम, शुल्क परामर्श और सम्बंधित अन्य जरूरी विषयों पर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। पीडब्ल्यू विद्यापीठ इस समय भारत में 67 सेंटर्स संचालित कर रहा है, जिसमें डेढ़ लाख से अधिक छात्र हैं। फिजिक्स वाला (पीडब्ल्यू) अपनी ऑफ़लाइन उपस्थिति का विस्तार कर रहा है। इस वर्ष इसके 33 और ऑफ़लाइन सेंटर खुल रहे हैं।

ऑफलाइन विद्यापीठ सेंटर्स एक विस्तृत पाठ्यक्रम उपलब्ध कराते हैं, जिसमें जेईई/नीट की तैयारी हेतु छात्रों को सीखने के लिए सभी आवश्यक चीजें शामिल हैं।

फिजिक्स वाला लगातार उत्कृष्ट परिणाम देता रहा है। विद्यापीठ ऑफलाइन, पीडब्ल्यू के सीईओ अंकित गुप्ता एवं रीजनल हेड रंजीत जी ने कहा, “कोविड के बाद शिक्षा का नया रूप विकसित हुआ है। छात्र अब ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से सीखने का फायदा उठाना चाहते हैं। पीडब्ल्यू का दृढ़ विश्वास है कि हाइब्रिड दृष्टिकोण अपनाकर आगे बढ़ा जा सकता है। हम शहरों में तकनीकी-सक्षम ऑफ़लाइन विद्यापीठ सेंटर्स खोलकर छात्रों को उनके ही कस्बों में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देना चाहते हैं। जिससे उन्हें दूर दूसरे शहरों के शिक्षा केंद्रों में जाने की जरूरत न पड़े। हमारी लक्ष्य छात्रों को और अधिक सपोर्ट देना है। पीडब्ल्यू एनएसएटी परीक्षा के से इंजीनियरिंग या चिकित्सा की पढ़ाई करने के उनके सपनों को पूरा करने में मदद करना है। जिसके लिए हम इस वर्ष 200 करोड़ की छात्रवृत्ति प्रदान कर रहे हैं।”

फिजिक्स वाला (पीडब्ल्यू) के बारे में

फिजिक्स वाला (पीडब्ल्यू) भारत की एक प्रमुख एडटेक कंपनी है, जिसकी स्थापना 2020 में हुई। इसका हेडक्वार्टर नोएडा, उत्तर प्रदेश में है। पीडब्ल्यू भारत में बड़े पैमाने पर शिक्षा को उदार बना रहा है। इसमें ऑनलाइन, ऑफलाइन और हाइब्रिड मोड में शिक्षा शामिल है। इसकी पहुंच भारत के 98% क्षेत्रों में है। पीडब्ल्यू अपने 61 यूट्यूब चैनलों के माध्यम से आठ स्थानीय भाषाओं में 31 मिलियन से अधिक छात्रों को मुफ्त गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देकर भारत के शैक्षिक परिदृश्य को नया आकार दे रहा है। 2014 में एक यूट्यूब चैनल से शुरू होकर 2020 में पीडब्ल्यू कंपनी और 2022 में यूनिकॉर्न बनने का मुकाम हासिल किया। आज पीडब्ल्यू के पास पीडब्ल्यू ऐप पर 10 मिलियन से अधिक पेड़ छात्र हैं। 22 से अधिक परीक्षा तैयारी श्रेणियों में विस्तार कर चुका है और देश भर में इसके 67 तकनीक -सक्षम ऑफ़लाइन विद्यापीठ सेंटर्स और 16 पाठशाला (हाइब्रिड) सेंटर्स हैं। पीडब्ल्यू से एक छात्र आजीवन सीखने में मदद ले सकता है। यह उन्हें एक छात्र से एक आत्मनिर्भर कुशले पेशेवर बनने तक, उनकी शैक्षिक यात्रा के दौरान सशक्त बनाता है।

Related posts

ग्राम मरोड़ में बाबा केदार की पालकी का किया नव निर्माण

prabhatchingari

रक्षा बंधन समारोह 2023 में मंत्री गणेश जोशी की कलाई पर 15 हजार से अधिक बहनों ने बांधा रक्षा सूत्र।*

prabhatchingari

नैनबाग शरदोत्सव को लेकर आयोजित हुई बैठक,

prabhatchingari

प्रभु श्रीराम के दर्शन कर मन हुआ अभिभूत,खुद को समझती हूं सौभाग्यशाली-रेखा आर्या

prabhatchingari

12 मई को खुलेंगे बदरीनाथ धान के कपाट, बसंत पंचमी पर किया गया शुभ मुहूर्त का एलान

prabhatchingari

24 सितंबर को हरिद्वार में होने वाले विशाल ब्राह्मण महाकुंभ को लेकर बैठक

prabhatchingari

Leave a Comment