Prabhat Chingari
उत्तराखंड

थाना सतपुली क्षेत्रान्तर्गत गुमखाल में वाहन दुर्घटना, SDRF का राहत एवं बचाव कार्य जारी

Advertisement

जनपद पौड़ी-को देर रात्रि थाना सतपुली द्वारा SDRF को सूचना दी गयी कि गुमखाल के पास एक कार अनियंत्रित होने से अत्यधिक गहरी खाई में गिरकर दुर्घटनाग्रस्त हो गयी है।

उक्त सूचना पर श्री मणिकांत मिश्रा, कमांडेंट SDRF के निर्देशानुसार SDRF टीमें मय आवश्यक रेस्क्यू उपकरणों के पोस्ट सतपुली व श्रीनगर से तत्काल घटनास्थल के लिए रवाना हुई।

घटनास्थल पर मौजूद स्थानीय लोगों द्वारा बताया गया कि उक्त वाहन में 04 लोग सवार थे जो गुमखाल बाजार से अपने घर की ओर जा रहे थे। SDRF जवानों द्वारा रात्रि के घनघोर अंधेरे में अत्यधिक दुर्गम मार्गों से होते हुए गहरी खाई में उतरकर वाहन तक अपनी पहुँच बनाई। वाहन सवार तीन लोगों की घटनास्थल पर ही मृत्यु हो गई थी।

SDRF टीम द्वारा कड़ी मशक्कत करते हुए 03 शवों को रोप स्ट्रैचर की सहायता से लगभग 500 मीटर गहरी खाई से निकालकर मुख्य मार्ग तक पहुँचाकर जिला पुलिस के सुपर्द किया गया जबकि चौथे लापता व्यक्ति की सर्चिंग की जा रही है।

*वाहन में सवार व्यक्तियों का विवरण:-*

1. चंद्रमोहन सिंह, उम्र 62 वर्ष।
2. दिनेश सिंह, उम्र -63 वर्ष।
3. कमल सिंह, उम्र- 45 वर्ष।
4. अतुल बिष्ट, उम्र- 40 वर्ष।

उपरोक्त सभी लोग गांव- देवदाली, ब्लॉक – जयहरीखाल, पौड़ी गढ़वाल के निवासी है।

Related posts

चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट विधि विधान से शीतकाल के लिए बंद

prabhatchingari

कैबिनेट मंत्री गणेश जोशी ने नेपाल की प्रसिद्ध अभिनेत्री नीतू कोयरेला और अंतराष्ट्रीय गायिका रितु कंडेल को किया सम्मानित।*

prabhatchingari

चकराता के पास खाई में गिरा व्यक्ति, SDRF ने किया रेस्क्यू।

prabhatchingari

जोशीमठ बचाओ संघर्ष समिति ने जिलाधिकारी को माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया

prabhatchingari

स्पिक मैके ने भुट्टे खान मांगनियार एंड ग्रुप द्वारा राजस्थानी लोक प्रदर्शन किया आयोजित देहरादून, 7 फरवरी 2024: स्पिक मैके ने द प्रेसीडेंसी इंटरनेशनल स्कूल, दून इंटरनेशनल स्कूल, द दून स्कूल, यूनिवर्सल एकेडमी और द दून गर्ल्स स्कूल में प्रसिद्ध भुट्टे खान मांगनियार एंड ग्रुप द्वारा एक मनमोहक राजस्थानी लोक नृत्य प्रदर्शन प्रस्तुत किया। प्रदर्शन में भगवान कृष्ण को समर्पित एक भजन की भावपूर्ण प्रस्तुति शामिल रही, जिसके बाद ‘केसरिया बलमा पधारो मारे देश’ पर एक जीवंत स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। इसके अतिरिक्त, कालबेलिया, भवाई, घूमर और तेरहताली जैसे लोक नृत्यों ने कार्यक्रम के आकर्षण को और बढ़ा दिया। राजस्थान के सांस्कृतिक रूप से समृद्ध क्षेत्र बाड़मेर से आने वाले भुट्टे खान मंगनियार न केवल एक उच्च कुशल कलाकार हैं, बल्कि लोककथाओं के एक समर्पित प्रवर्तक भी हैं। उन्होंने सैकड़ों लोक कलाकारों के साथ मिलकर राजस्थान की जीवंत परंपराओं को दुनिया भर के दर्शकों के सामने प्रदर्शित किया है। उनकी उल्लेखनीय प्रस्तुतियों में कोक स्टूडियो में प्रदर्शन और अभूतपूर्व पहल ‘धरोहर’ शामिल हैं, जिसके माध्यम से भारत और विदेश के लोक कलाकारों को एक साथ आने का मौक़ा मिला। ग़ौरतलब है कि वह सितंबर 2007 में रूस में आयोजित भारत के स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान भव्य प्रदर्शन का एक अहम हिस्सा रहे हैं। कार्यक्रम के दौरान मौजूद छात्रों में एक ने कहा, “भुट्टे खान मंगनियार का प्रदर्शन वास्तव में मनमोहक था। मेरे लिए यह कार्यक्रम राजस्थानी संस्कृति और परंपराओं की समृद्ध दुनिया में कदम रखने जैसा था।”

prabhatchingari

मुख्यमंत्री ने शहीद मेजर दुर्गा मल्ल की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की, गोरखा समुदाय के लोगों को किया सम्मानित

prabhatchingari

Leave a Comment