Prabhat Chingari
उत्तराखंड

फर्जी डॉक्टर बन ऋषिकेश एम्स में घूम रहा युवक गिरफ्तार।

Advertisement

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश (एम्स ) में फर्जी डॉक्टर बनकर घूम रहे एक युवक को पकड़ा गया। संदिग्ध परिस्थितियों में डॉक्टर की वर्दी पहनकर घूम रहा एक युवक सेवा वीरों को दिखाई दिया। युवक से पूछताछ करने पर उसने खुद को न्यूरोलॉजी डिपार्टमेंट का डॉक्टर बताया लेकिन पूछताछ में युवक की बातें संदिग्ध मालूम हुईं।

एम्स के प्रशासनिक अधिकारी द्वारा दी गई तहरीर के बाद पुलिस ने युवक के विरुद्ध जांच पड़ताल प्रारंभ कर दी है। प्रशासनिक अधिकारी संदीप कुमार ने एम्स चौकी पुलिस को तहरीर देकर फर्जी डॉक्टर बने युवक के खिलाफ गहन जांच पड़ताल और कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा।

युवक की पहचान सचिन कुमार, निवासी कृष्णा नगर कॉलोनी, ऋषिकेश के रूप में हुई है। सचिन ने एम्स के अधिकारियों को बताया कि उसने कोविड-19 के दौरान डीआरडीओ के अस्पताल में बतौर हॉस्पिटल अटेंडेंट के रूप में काम किया था।
फर्जी डॉक्टर के मोबाइल नंबर से 50 से अधिक रजिस्ट्रेशन एम्स में कराए गए हैं, जिसका डाटा बरामद कर लिया गया है

इसके अलावा उसके पास 10 हजार से अधिक नकद रुपये भी बरामद हुए हैं। उसके मोबाइल से लाखों रुपये के कई लेने देन भी हुए हैं। इसके अलावा कई प्रकार के फर्जी दस्तावेज भी उसके मोबाइल में देखे गए हैं

Related posts

साहित्यकार चन्द्रकुंवर बर्त्वाल के साहित्य को समेटने में “तुंगनाथी” का महत्वपूर्ण योगदान: महाराज

prabhatchingari

अन्तर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस पर वृद्ध मतदाताओं को किया सम्मानित।*

prabhatchingari

पूर्व सैनिक संगठनों के प्रतिनिधियों को आर्थिक सहायता के चैक भेट करते सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी

prabhatchingari

पूर्व सैनिकों के सम्मान में 14 जनवरी को जनपद चमोली में सशस्त्र बल पूर्व सैनिक दिवस हर्षोल्लास के साथ मनाया गया*

prabhatchingari

वित्तीय वर्ष 2024-25 के लिए उत्तराखंड का बजट विधानसभा में पेश किया, 89230.07 करोड़ का बजट उत्तराखंड विधान सभा में प्रस्तुत

prabhatchingari

प्रधानमंत्री के आदेशों को दरकिनार कर आबकारी विभाग का प्लास्टिक होलोग्राम

prabhatchingari

Leave a Comment