Prabhat Chingari
उत्तराखंड

बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने विविध व्यावसायिक सेगमेंट की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सात नए चालू खाता उत्पादों के साथ एक व्यापक चालू खाता पैकेज को शुरू किया

व्यक्तियों और छोटे स्वामित्व फर्म्स से लेकर बड़े व्यावसायिक संस्थानों तक के विभिन्न उद्यमों की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए अनुकूल और सुविधा संपन्न व्यवसाय बैंकिंग समाधान

देहरादून- बैंक ऑफ़ बड़ौदा (बैंक), भारत के प्रमुख सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में से एक, ने आज एक व्यापक चालू खाता पैकेज की शुरुआत की घोषणा की, जिसमें सात नए चालू खाता उत्पादों को शामिल किया गया है। प्रत्येक चालू खाता उत्पाद को विशेष रूप से विभिन्न व्यावसायिक क्षेत्रों की विशिष्ट व्यावसायिक बैंकिंग आवश्यकताओं को पूरा करने, ग्राहकों को सशक्त बनाने और उनके व्यवसायों को बढ़ावा देने के लिए तैयार किया गया है। नए चालू खाता पैकेज का अनावरण बैंक के कॉर्पोरेट कार्यालय में एक कार्यक्रम में एमडी और सीईओ, श्री देबदत्त चांद द्वारा बैंक के कार्यपालक निदेशकों, सीवीओ और सुश्री शैफाली वर्मा, भारतीय क्रिकेटर और बैंक के ब्रांड प्रचारक की उपस्थिति में किया गया।

नए लॉन्च किए गए बैंक ऑफ़ बड़ौदा के चालू खाते इस प्रकार हैं: बॉब लाइट (व्यक्ति/ एकल  स्वामित्व/छोटे व्यवसायों के लिए), बॉब वूमेन पावर (महिला उद्यमियों के लिए), बॉब स्मार्ट (मुख्य रूप से डिजिटल लेन-देन करने वाले व्यवसायों के लिए), बॉब गोल्ड (मध्यम आकार के व्यवसायों के लिए) और बॉब प्लैटिनम, बॉब रोडियम, और बॉब डायमंड (उच्च लेनदेन आवश्यकताओं वाले बड़े व्यवसायों के लिए)।

ये खाते चयनित खाते के आधार पर सुविधाओं और वैल्यू एडेड सेवाओं के साथ आते हैं, जैसे कहीं से भी अधिक नकद को जमा करना, क्यूआर कोड के साथ मुफ्त साउंड बॉक्स और पीओएस मशीन (शून्य मासिक किराये के साथ), चालू खाते के साथ एक संपार्श्विक-मुक्त ओवरड्राफ्ट सुविधा, कम मासिक औसत शेष आवश्यकताओं के अलावा, उच्च खाता वेरिएंट के लिए क्यूरेटेड बड़ौदा नकदी प्रबंधन सेवाएं।

इस अवसर पर बोलते हुए, बैंक ऑफ़ बड़ौदा के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री देबदत्त चांद ने कहा, “ विभिन्न प्रकार की व्यवसाय विकास यात्रा के साथ बदलती हुई बैंकिंग आवश्यकताओं पर विचार करते हुए, और उनका बैंकिंग साथी बनने की इच्छा रखते हुए, बैंक ऑफ़ बड़ौदा हमारे ग्राहकों के लिए बैंकिंग को और अधिक रिवार्डिंग बनाने के लिए तैयार सुविधाओं और लाभों से भरपूर अत्याधुनिक चालू खातों का एक नया माध्यम पेश कर रहा है। हमने अपने ग्राहक आधार का विश्लेषण किया है और एक व्यापक उत्पाद वर्गीकरण प्रक्रिया की है, जिसने हमें विभिन्न व्यावसायिक क्षेत्रों को लक्षित करते हुए बाजार में अलग-अलग उत्पादों की एक श्रृंखला लॉन्च करने के लिए अभिप्रेरित किया है। बॉब चालू खातों की नई रेंज हमारे ग्राहकों की विकासउन्मुख योजनाओं में सहयोग करेगी।

“नवीनतम लॉन्च किए गए वर्तमान खाता उत्पादों को ध्यानपूर्वक डिज़ाइन किया गया है, ताकि व्यवसायियों और व्यक्तियों की गतिशील आवश्यकताओं को पूरा किया जा सके। वे न केवल असाधारण वैल्यू प्रदान करते हैं बल्कि बैंक ऑफ़ बड़ौदा को उन ग्राहकों का पसंदीदा विकल्प बनाते हैं, जो नवोन्मेषी, प्रतिस्पर्धी और विशेष वित्तीय समाधान चाहते हैं। इसके अलावा, ये पहल हमारे कम लागत वाली जमाराशि और हमारी बाजार हिस्सेदारी बढ़ाने की दिशा में केंद्रित हैं,” श्री चांद ने कहा।

अन्य लाभों में चालू खाताधारकों के लिए आजीवन निःशुल्क कॉर्पोरेट क्रेडिट कार्ड (पात्रता के अधीन), खुदरा ऋण (गृह, ऑटो, शिक्षा और बंधक ऋण सहित) पर प्रोसेसिंग शुल्क पर छूट और रियायत पर डीमैट खाता सुविधा शामिल हैं।

इस शुभारंभ के साथ, बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने अपने तीन मौजूदा चालू खाता उत्पादों – बॉब एडवांटेज, बॉब प्रीमियम और बॉब सुप्रीम को भी नया रूप प्रदान किया है, जो उन्हें अधिक प्रतिस्पर्धी और आकर्षक बनाता है।

नवीनतम शुरू किए गए बॉब चालू खाता उत्पादों की मुख्य विशेषताएं https://www.bankofbaroda.in/personal-banking/accounts/current-accounts पर उपलब्ध हैं।

Related posts

द पॉली किड्स देहरादून के सभी शाखाओं ने ग्रैंडपेरेंटस डे मनाया

prabhatchingari

लखवाड़ बांध से प्रभावित जौनपुर व जौनसार के युवाओं द्वारा बैठक आहूत की गई*

prabhatchingari

ऑपरेशन स्माइल की अध्यक्षता में सम्बन्धित विभागों के साथ किया गया समन्वय गोष्ठी का आयोजन

prabhatchingari

होटल व रेस्टोरेंट में 20 अप्रैल को सभी को 20 % की छूट…..

prabhatchingari

बालाजी टेलीफिल्म्स लिमिटेड ने नई मूवी के साथ फाइनेंशियल ईयर 24 की तीसरी तिमाही के शानदार परिणामों की घोषणा की

prabhatchingari

बैंकिंग के प्रतिष्ठित व्यक्तित्व एल वी प्रभाकर – केनरा बैंक के पूर्व एमडी और सीईओ, केप्री ग्लोबल कैपिटल बोर्ड में शामिल हुए

prabhatchingari

Leave a Comment