Prabhat Chingari
Uncategorized

बस्तियों के मालिकाना हक को लेकर भाजपा ने जनता के साथ किया विश्वासघात :- रविंद्र सिंह आनंद..…

*बस्तियों के मालिकाना हक को लेकर भाजपा ने जनता के साथ किया विश्वासघात :- रविंद्र सिंह आनंद*।

*जनता और मेरे सब्र का इम्तिहान ना ले भाजपा सरकार :- रविंद्र ।*

देहरादून । आज मंडी समिति के पूर्व अध्यक्ष एवं आप नेता ने एक बयान जारी कर बस्तियों के नियमितीकरण को लेकर भाजपा पर जनता के साथ विश्वासघात का आरोप लगाया ।

उन्होंने कहा कि 5 साल पूर्व नगर निगम चुनाव से ठीक पहले भाजपा सरकार ने जनता के साथ यह वादा किया था कि वह उनके आशियाने उजाड़ने नहीं देंगी और सबको मालिकाना हक मिलेगा, लेकिन वोट लेने के बाद भाजपा अपने वादे से पूरी तरह मुकर गई और पल्ला झाड़ते हुए अपनी नाकामी का ठीकरा कोर्ट पर फोड़ दिया ।
उन्होंने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी सच में जुमला पार्टी है इसलिए जनता को आए दिन नए-नए जुमले देती रहती है लेकिन जब जनता को कुछ देने की बारी आती है तो खुद कुछ ना करते हुए मामले में हिलाहवाली करती है उन्होंने निवर्तमान मेयर सुनील उनियाल गामा को भी आड़े हाथ लेते हुए कहा कि गामा ने उस वक्त जनता का वोट लूटने के लिए जनता से झूठे वादे किए एवं तत्कालीन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने भी जनता को गुमराह किया एवं उसके साथ विश्वास घात किया है ।

उन्होंने कहा यह बीजेपी का चाल, चरित्र और चेहरा बन चुका है कि पहले झूठे वादे कर कर जनता से वोट ले लो और बाद में विश्वास घात करो उन्होंने कहा कि किसी का आशियाना उजाड़ना किसी भी तरीके से ठीक नहीं है ।

अंत में उन्होंने कहा अब समय आ गया है जब जनता की आंखें खुल रही हैं और आगामी नगर निगम चुनाव में भाजपा को करारी शिकस्त का सामना करना पड़ेगा ।

Related posts

लैला तैयबजी को विश्व डिज़ाइन विश्वविद्यालय द्वारा राष्ट्रीय डिज़ाइन गुरु की उपाधि से सम्मानित किया गया

prabhatchingari

राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय गोपेश्वर में वृहस्पतिवार को छात्रसंघ चुनाव की अधिसूचना जारी

prabhatchingari

देश के मोस्ट वांटेड साइबर ठग को उत्तराखंड एसटीएफ ने दबोचा चीन से भी है संबंध

prabhatchingari

तुलाज़ इंस्टीट्यूट में आयोजित हुआ तकनीकी उत्सव ‘उत्कृष्ट’

prabhatchingari

वार्षिक उत्सव के लिए खुला सबरीमाला अयप्पा मंदिर

prabhatchingari

सैनिक कल्याण विभाग द्वारा प्रायोजित पूर्व सैनिकों के आश्रितों को प्रशिक्षण बाद नियुक्ति पत्र वितरित करते गणेश जोशी।

prabhatchingari

Leave a Comment