Prabhat Chingari
उत्तराखंडराजनीती

हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बनने पर जस्टिस रितु बाहरी को दी बधाई*

देहरादून। जस्टिस रितु बाहरी ने उत्तराखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ लेने बाद गवर्नर लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(सेनि), मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी, कैबिनेट मंत्री सतपाल महाराज ने जस्टिस बाहरी से यूसीसी सहित अनेक बिन्दुओं पर चर्चा की और जस्टिस बाहरी को उत्तराखंड हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश बनने पर बधाई दी।

श्री महाराज ने कहा कि यदि हमें सबका साथ, सबका विकास और सबके विश्वास के अनुरूप काम करना है तो यूसीसी को लागू करना अनिवार्य है। उन्होंने कहा कि देश में शादी, तलाक, प्रॉपर्टी में बंटवारा, बच्चा गोद लेने जैसे विषयों पर यूसीसी जैसा कानून बेहद जरूरी है।

कैबिनेट मंत्री श्री महाराज ने कहा भारतीय संविधान का अनुच्छेद 25-28 भारतीय नागरिकों को धार्मिक स्वतंत्रता की गारंटी देता है और धार्मिक समूहों को अपने स्वयं के मामलों का प्रबंधन करने की अनुमति देता है। साथ संविधान का अनुच्छेद 44 भारतीय राज्य से अपेक्षा कहता है कि वह राष्ट्रीय नीतियां बनाते समय सभी भारतीय नागरिकों के लिए राज्य के नीति निर्देशक तत्व और समान कानून को लागू करे। इस बात को ध्यान में रखते हुए वर्तमान में यूसीसी देश की एकता, अखंडता और लिंग भेद की दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण है।

हमारे लिए यह गर्व की बात है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन और मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में उत्तराखंड ने यूसीसी (UCC) को लेकर एक ऐतिहासिक काम किया है। जो देश के लिए एक नजीर बनेगा।

Related posts

पंचायत कर्मियों के हड़ताल अवधि को उपार्जित अवकाश में समायोजित किया जाएगा: महाराज

prabhatchingari

डेंगू कंट्रोल रूम से 896 लोगों तक पहुँचाई गई प्लेटलेट्स

prabhatchingari

बागेश्वर में आबकारी विभाग ने पकड़ा अवैध शराब का जखीरा

prabhatchingari

सैन्यधाम का निरीक्षण करते सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी

prabhatchingari

हर ग्राम योग हर वार्ड योग के तहत राज्य में 9 वेअंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का आयोजन होगा

prabhatchingari

गढवाल सांसद ने चमोली जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति की बैठक ली

prabhatchingari

Leave a Comment