Prabhat Chingari
उत्तराखंडजीवन शैली

टीएचडीसीआईएल ने विवेकानन्द नेत्रालय अस्पताल, को प्रदान किया अत्याधुनिक नेत्र देखभाल उपकरण

देहरादून /ऋषिकेश:- आर. के. विश्नोई, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड ने बताया कि कंपनी के कॉरपोरेट सामाजिक उत्तरदायित्व के अंतर्गत सभी को गुणवत्तापूर्वक स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के दिशा में आगे बढ़ते हुए, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड ने विवेकानंद नेत्रालय आई हॉस्पिटल, देहरादून के नए ऑपरेशन थिएटर के लिए ज़ीस माइक्रोस्कोप मॉडल ओपीएमआई लुमेरा 700 (Zeiss Microscope Model OPMI LUMERA 700 ) मशीन प्रदान की । जे. बेहेरा, निदेशक (वित्त) ने 24 फरवरी 2024 को मशीन का उद्घाटन किया, जो टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड की सामाजिक जिम्मेदारी और विज़न को सार्वभौमिक स्वास्थ्य सेवा तक पहुँचाने की दृढ़ संकल्पना को दर्शाता है।

विश्नोई ने जीवन में अच्छे स्वास्थ्य की महत्वपूर्ण भूमिका पर प्रकाश डालते हुए कहा कि एक सामाजिक रूप से जिम्मेदार संगठन के रूप में, टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड निरंतर प्रदेश में स्वास्थ्य सेवा की चुनौतियों का सामना करने के लिए विभिन्न सीएसआर पहलुओं के माध्यम से प्रयासरत है। जिसमें टिहरी जिले के दीन गांव में हंस फाउंडेशन के माध्यम से एक एलोपैथिक डिस्पेंसरी का संचालन, सीमा डेंटल कॉलेज, ऋषिकेश; एम्स, ऋषिकेश; और निर्मल आश्रम नेत्रालय, ऋषिकेश के साथ स्वास्थ्य शिविर आयोजित करना आदि शामिल है। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड जिला स्वास्थ्य अधिकारियों द्वारा अनुरोध किये जाने पर समय-समय पर विभिन्न चिकित्सा वस्तुएं और उपकरण प्रदान करके राज्य सरकार के स्वास्थ्य बुनियादी ढांचे का समर्थन भी करता है |

उद्घाटन समारोह के दौरान, जे. बेहेरा ने बताया कि टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड ने अपनी सीएसआर योजना के अंतर्गत विवेकानंद अस्पताल, देहरादून के लिए ज़ीस माइक्रोस्कोप मॉडल ओपीएमआई लुमेरा 700 की खरीदारी के लिए 1.25 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की । इसका उद्देश्य उत्तराखंड के दूरदराज क्षेत्रों में बसे समुदायों और उत्तम स्वास्थ्य सेवाओं से वंचित व्यक्तियों को सर्वोत्तम श्रेणी की नेत्र देखभाल सुविधाएं प्रदान करना है | उत्तराखंड के साथ-साथ इसमें उत्तर प्रदेश के कई जिले जैसे बिजनौर, शामली, मुजफ्फरनगर, और सहारनपुर आदि भी शामिल हैं। यह नई मशीन नेत्र संबंधी बीमारियों से पीड़ित लोगों के लिए एक वरदान के रूप में कार्य करेगी, जिससे मोतियाबिंद सर्जरी, ग्लूकोमा उपचार, रेटिना सर्जरी, और कॉर्निया प्रत्यारोपण जैसे उच्च गुणवत्ता के उपचार और प्रक्रियाएं भी संभव हैं ।

टीएचडीसी अपने सामाजिक उत्तरदायित्व को पूर्ण करते हुए उत्तराखंड के पहाड़ी समुदायों के लिए आंखों की बीमारियों का समाधान करने, स्वास्थ्य संबंधित सुविधाएं कम लागत में उपलब्ध कराने के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता आया है | उद्घाटन समारोह के दौरान श्री अमरदीप, महाप्रबंधक (एस&डी), तथा टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड व विवेकानन्द नेत्रालय अस्पताल, देहरादून के अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे ।
डा. ऐ. एन, त्रिपाठी, महाप्रबन्‍धक (कॉरपोरेटसंचार) द्वारा जारी

Related posts

मोटोरोला ने भारत में जीवनशैली प्रौद्योगिकी को बदलते हुए वर्ष 2024 मे मोटोरोला razr40 ultra और edge40 neo को लॉन्च किया!

prabhatchingari

रक्षाबंधन समारोह”, 3000 से अधिक बहनों ने बांधा कृषि मंत्री गणेश जोशी को रक्षा सूत्र।

prabhatchingari

शिव और शक्ति का दुर्लभ मंदिर है

prabhatchingari

ई-लर्निंग वाहन में इंटरनेट युक्त 120 लैपटॉप हैं, जिसमें शिक्षण सामग्री संरक्षित है।

prabhatchingari

डीजीपी अशोक कुमार हुए सेवानिवृत, अभिनव कुमार ने संभाली कमान.

prabhatchingari

वार्ड नंबर 78 की समस्याओं को लेकर जिलाअधिकारी कार्यालय में किया प्रदर्शन

prabhatchingari

Leave a Comment