Prabhat Chingari
उत्तराखंडजीवन शैली

दुनिया अब बिना किसी सीमा के है एक वैश्विक गांव

देहरादून। गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स (जीएसटी) पर आधारित पुस्तक न्यू-एज इकोनॉमी टैक्सेशन का विमोचन किया गया। पुस्तक के लेखक सीए पुष्पेंद्र कुमार दी​क्षित ने कहा, दुनिया अब बिना किसी सीमा के एक वै​श्विक गांव है। मूल रूप से अल्मोड़ा निवासी पुष्पेंद्र ने अपनी शुरूआती पढ़ाई दून से की है।

पुस्तक के संबंध में जानकारी देते हुए पुष्पेंद्र ने कहा, डिजिटल अर्थव्यवस्था अब नई सामान्य स्थिति है। भौतिक अर्थव्यवस्था का डिजिटल अर्थव्यवस्था में परिवर्तन अभूतपूर्व है। कहा, यह पुस्तक डिजिटल अर्थव्यवस्था व्यापार लेनदेन का विश्लेषण करने का प्रयास करती है। साथ ही इसमें विश्व स्तर पर अपनाए गए एकतरफा डिजिटल कर उपायों के बारे में भी विस्तार से बात की गई है।

Related posts

रामइन्फो लिमिटेड युवाओं को स्‍थायी विकास और स्व-रोजगार के लिए आवश्यक कौशल से सशक्त करेगी

prabhatchingari

असम राइफल के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल प्रदीप चंद नायर ने की राजभवन में शिष्टाचार भेंट

prabhatchingari

ब्यासी के पास बस और ट्रक की हुई भिड़ंत, SDRF ने बस में फंसे चालक का किया सकुशल रेस्क्यू।*

prabhatchingari

उत्तराखंड में निकली बम्पर नौकरियां,

prabhatchingari

कोरोनेशन हॉस्पिटल में आठ किलो के ट्यूमर का सफल ऑपरेशन

prabhatchingari

प्रोजेक्ट स्वयं: वालचंद प्लस हरित क्षेत्र में टिकाऊ भविष्य के लिए युवाओं को सशक्त बनाना

prabhatchingari

Leave a Comment