Prabhat Chingari
Uncategorized

जोशीमठ में तीन दिवसीय बाल फिल्म मेला शुक्र, बच्चों को दिखाई जायेगी देश-विदेश की बेहतरीन फिल्म

*चमोली जिले के जोशीमठ में तीन दिवसीय बाल फिल्म मेला शुक्र, बच्चों को दिखाई जायेगी देश-विदेश की बेहतरीन फिल्म*
चमोली ( प्रदीप लखेड़ा )
रचनात्मक शिक्षक मंडल उत्तराखंड की पहल पर जोशीमठ में मंगलवार से तीन दिवसीय बाल फिल्म मेला शुरू हो गया। बाल फिल्म मेले में राजकीय बालिका इंटर कालेज और राजकीय इंटर कालेज के बच्चों को देश दुनिया की बेहतरीन फिल्में दिखायी गई।
बाल फिल्म मेले की शुरूआत जवाहर लाल नेहरू की पुस्तक ‘भारत एक खोज’ पर श्याम बेनेगल के बने सीरियल भारत एक खोज के पहले एपिसोड ‘भारत माता की जय’ से हुई। बच्चों ने ऑस्कर पुरुस्कृत फिल्म द रेड बलून भी देखी। द रेड बलून एक कालातीत क्लासिक है, जिसने दशकों से दर्शकों को आकर्षित किया है। वर्ष 1956 में रिलीज हुई यह फ्रेंच शॉर्ट फिल्म पास्कल नाम के एक युवा लड़के की दिल को छू लेने वाली कहानी बताती है, जो एक जादुई लाल गुब्बारे से दोस्ती करता है। अल्बर्ट लैमोरिस की ओर से निर्देशित फिल्म आकर्षक कहानी दर्शकों को आश्चर्य और कल्पना की दुनिया में ले जाती है। बच्चों ने इकतारा ग्रुप निर्देशित चंदा के जूते फिल्म भी देखी। यह फिल्म वर्तमान रट्टू शिक्षा व्यवस्था की विसंगतियों पर केंद्रित है। चंदा के जूते एकतारा की पहली फिक्शन फिल्म है। एक छोटी लड़की चंदा, जो अपनी बस्ती की निर्विवाद चैंपियन है और उसकी सहेली शमीन एक बड़े स्कूल में दाखिला लेने के बाद चिंताओं से भरे बैग के बोझ तले दबी हुई हैं। एक स्कूल जो अपने साथ नई किताबें, यूनिफॉर्म और ऐसा बहुत कुछ लेकर आता जो चंदा को बिलकुल पसंद नहीं। स्कूल प्रशासन चाहता है हर बच्चे को जूते अवश्य पहनने चाहिए, जबकि चंदा को जूतों से नफरत है।
इस मौके पर गिरीश तिवारी गिर्दा और नरेंद्र सिंह नेगी के गीत भी गाए गए। कार्यक्रम संयोजक शिक्षक मंडल संयोजक नवेंदु मठपाल ने अस्कोट आराकोट अभियान के बाबत भी बच्चों को बताया कि अस्कोट-आराकोट अभियान बीते 25 मई को अस्कोट से शुरू हो चुका है। अभियान का यह 50वां यानी स्वर्ण जयंती साल भी है। इस बार अभियान की प्रमुख थीम स्रोत से संगम रखी गई है ताकि नदियों से समाज के रिश्ते को गहराई से समझा जा सके और उनकी सेहत पर पड़ रहे दबावों को सामने लाया जा सके।
इस मौके पर जीजीआईसी की प्रधानाचार्य उर्मिला बहुगुणा, जीआईसी के प्रधानाचार्य मोहन सिंह पंवार, कार्यक्रम संयोजक नवेंदु मठपाल, मनवर सिंह पाल, प्रभात पाल, अनीता नौटियाल, रेखा राज प्रीति राणा और शशि मौजूद रहे।

Related posts

उत्तराखंड की पहली सस्पेंस थ्रिलर मर्डर मिस्ट्री फ़िल्म ” अजाण ” का पोस्टर और टीजर रिलीज

prabhatchingari

प्रसिद्ध रेस्टोरेंट चेन ढाबा 1986 ने सेंट्रियो मॉल में लॉन्च किया अपना नवीनतम आउटलेट

prabhatchingari

किरूली में पांडवनृत्य गेंडा वध में उमड़ा अभूतपूर्व जनसैलाब, अर्जुन नें किया गेंडा वध

prabhatchingari

स्वास्थ्य विभाग असम के उच्चाधिकारियों के साथ की बैठक*

prabhatchingari

सरदार वल्लभ भाई पटेल के चित्र पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने श्रद्धा सुमन अर्पित कर दी श्रद्धांजलि।

prabhatchingari

ढाबे की आड़ में शराब बेचने वाले ढाबा संचालक को पिथौरागढ़ पुलिस ने किया गिरफ्तार*

prabhatchingari

Leave a Comment