Prabhat Chingari
खेल–जगत

युवा व खेल मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने पेरिस ओलम्पिक्‍स में टीम इंडिया के लिये तस्‍वा की सेरेमोनियल ड्रेस का अनावरण …………

देहरादून-: तस्‍वा, आदित्‍य बिरला फैशन एण्‍ड रिटेल लि. और मशहूर डिजाइनर तरुण तहलियानी के मेन्‍स इंडियन वियर ब्राण्‍ड, ने आगामी पेरिस ओलम्पिक्‍स 2024 के लिये टीम इंडिया की सेरेमोनियल ड्रेस बनाने का प्रति‍ष्ठित काम किया है। माननीय युवा मामले एवं खेल मंत्री डॉ. मनसुख मंडाविया ने इंडियन ओलम्पिक्‍स एसोसिएशन की प्रेसिडेंट डॉ. पी.टी. ऊषा की मौजूदगी में टीम इंडिया के ऑफिशियल सेरेमोनियल ड्रेस का अनावरण किया।

तस्‍वा अब दुनिया में फैशन की राजधानी, पेरिस में भारत के पारंपरिक परिधानों पर अपना नया नजरिया दिखाने के लिए पूरी तरह तैयार है। सेरेमोनियल ड्रेस भारत के समृद्ध सांस्‍कृतिक चित्रपट से प्रेरित है और इसमें हमारे तिरंगे के के‍सरिया, हरे एवं सफेद रंगों से सराबोर देशभक्ति का उत्‍साह भी साफ-साफ झलकता है।

तस्‍वा के चीफ डिजाइन ऑफिसर तरुण तहलियानी ने किट के अनावरण समारोह में बताया, ‘‘हम टीम इंडिया के लिए ड्रेस बनाकर बहुत सम्‍मानित महसूस कर रहे हैं। हमने ऐसे परिधान बनाने के‍ लिये इंडियन ओलम्पिक एसोसिएशन के साथ मिलकर काम किया है, जो भारत की गाथा गाते हैं। यह परिधान न सिर्फ देखने में आकर्षक हैं, बल्कि कम्‍फर्ट और व्‍यवहारिकता को भी ध्‍यान रखकर बनाये गये हैं। ओपेनिंग सेरेमनी में सभी के साथ भव्‍यता से प्रवेश करते हुए, हमारे खिलाडि़यों के हवादार और हल्‍के–फुल्‍के परिधान जुलाई में पेरिस की गर्मियों के बिलकुल अनुकूल होंगे।’’

तहलियानी ने आगे कहा, ‘‘हम चाहते हैं कि हमारे खिलाड़ी वैश्विक मंच पर इस अहसास के साथ अपने कदम आगे बढ़ाएं कि वे भारत की संस्‍कृति एवं धरोहर के दूत हैं। यह हमारा सपना है कि हमारी परंपराओं का दुनियाभर में सम्‍मान किया जाए और उसकी प्रशंसा हो।’’

ओपेनिंग सेरेमनी में टीम इंडिया के पुरुष खिलाड़ी कुर्ता बंडी सेट पहनेंगे, जबकि महिला खिलाड़ी खूबसूरती साडि़यों में नजर आयेंगी। इन परिधानों में इकट से प्रेरित और केसरिया और हरे रंग में डिजिटल तरीके से प्रिंटेड पैनल होंगे। नीले रंग के बटनहोल अशोक चक्र के प्रतीक होंगे, जबकि आइवरी बेस शांति और एकता दिखाएगा। यह लुक आधुनिक ट्रेनर्स से पूरा होता है, जो बनारस का पारंपरिक ब्रोकेड पहनेंगे जिसमें आधुनिक फैशन के साथ परंपरा का सहजता से संगम किया गया है।

तरुण तहलियानी ने आगे कहा, ‘‘यह सेरेमोनियल ड्रेस बड़ी खूबसूरती से पुराने भारतीय स्‍टाइल को आधुनिक खिलाड़ी जैसा एहसास देती है। कुर्ता बंडी सेट को हल्‍के-फुल्‍के मॉस कॉटन से बनाया गया है, यह हवादार हैं और पूरा कम्‍फर्ट प्रदान करते हैं। साड़ी चूंकि सुंदरता और सांस्‍कृतिक पहचान का प्रतीक है, इसलिये उसे स्‍वाभाविक तरीके से लपेटने और हवादार रखने के लिये विस्‍कोस क्रेपे से नयापन दिया गया है। इस तरह हमारे खिलाडि़यों को कम्‍फर्ट के साथ-साथ खूबसूरती का भी अहसास होगा।’’

ओलम्पिक मेन्‍स टेबल टेनिस का नेतृत्‍व कर रहे और पेरिस ओलम्पिक्‍स में टीम इंडिया के ध्‍वजवाहक शरथ कमल ने कहा, ‘‘इस सेरेमोनियल ड्रेस को पहनने का अनुभव दमदार था। जब मैंने खुद को शीशे में देखा, तब हमारी धरोहर पर गर्व और उससे जुड़ाव की तीव्र भावना जागी। हल्‍का–फुल्‍का फैब्रिक इसे उस मौके के लिये आदर्श बना देता है।’’

तस्‍वा के ब्राण्‍ड हेड आशीष मुकुल ने भी यही भावना व्‍यक्‍त करते हुए कहा: ‘‘ऑफिशियल सेरेमोनियल ड्रेस न केवल भारतीय शैली के सार को संजोती है, बल्कि देश के गौरव एवं उपलब्धियों का प्रती‍क भी है। इसे खासतौर पर उन लोगों के लिये बनाया गया है, जिन्‍हें वैश्विक मंच पर भारत के प्रतिनिधित्‍व का सम्‍मान मिला है।’’

तस्‍वा न केवल भारत की समृद्ध सांस्‍कृतिक धरोहर का उत्‍सव मनाता है, बल्कि देश के आधुनिक एवं गतिशील उत्‍साह से दुनिया को रूबरू भी कराता है। वैश्विक मंच पर हमारे खिलाड़ी ऐसे परिधानों में नजर आयेंगे, जो भारत के सार की असली अभिव्‍यक्ति हैं- यानी ऐसा देश जो सदाबहार, जीवंत और लगातार विकास करने वाला है।

Related posts

ग्रामीणों ने किया हंगामा; परिजन बोले- सरकारी लाइनमैन ने परमिट होने के बावजूद चालू की सप्लाई | The villagers created a ruckus; The family said – the government lineman started the supply despite having a permit

cradmin

एचसीएल फाउंडेशन ने वंचित स्कूली छात्रों के लिए मल्टी-स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स का कायापलट किया

prabhatchingari

राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम को विभाग नें लिया कब्जे में, मिली बड़ी सफलता

prabhatchingari

अर्बनराईजर्स हैदराबाद की 157 की चुनौती के समक्ष सदर्न सुपरस्टार्स 143 रनों पर ढेर

prabhatchingari

उत्तराखण्ड अर्न्तविद्यालयी जिमनास्टिक में ओवरऑल विजय रहा सेंट जॉर्ज कॉलेज मसुरी

prabhatchingari

एचआईवी जागरुकता मैराथन “रेड रन” में 200 से अधिक छात्र-छात्राएं दौड़े

prabhatchingari

Leave a Comment